मध्यप्रदेश में चुनाव से पहले बीजेपी में बड़ी टूट, पार्टी नेताओं ने दिया सामूहिक इस्तीफा

मुंबई, महाराष्ट्र/राजू सोनीः अमित शाह के बारे में कहा जाता है कि वे जिस राज्य में जाते हैं भाजपा के लिए तोड़फोड़ शुरू हो जाती है। इसका नजारा अभी यूपी में देखने को मिला था। लेकिन ऐसे में उनके लिए एक बुरी खबर मध्य प्रदेश से आ रही है। दरअसल, अमित शाह इस वक्त मध्य प्रदेश में ही हैं ऐसे में भाजपा के कई पदाधिकारियों ने इस्तीफा दे दिया है।

मुख्य बातें-

मेधा पाटेकर पर झूठे मामले दर्ज कराने से नाराज थे भाजपा नेता
मध्य प्रदेश में ही हैं अमित शाह
मेधा पाटेकर के समर्थन में दिया इस्तीफा
मेधा पाटेकर को झूठे मामलों में फंसाने का आरोप
यह इस्तीफा सरदार सरोवर बांध की ऊंचाई बढ़ाए जाने के कारण डूब प्रभावितों की लड़ाई लड़ रहीं नर्मदा बचाओ आंदोलन की नेत्री मेधा पाटकर को झूठे मामलों में फंसाकर जेल भेजने और पुनर्वास की बजाय प्रशासन की डराने-धमकाने की कार्रवाई से नाराज होकर दिया है। सामूहिक इस्तीफा देने वाले सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के कड़माल मंडल के पदाधिकारी हैं। वहीं नर्मदा बचाओ आंदोलन के बैनर तले आंदोलन, प्रदर्शन का दौर जारी है।नर्मदा बचाओ आंदोलन की ओर से शुक्रवार को जारी विज्ञप्ति में बताया गया कि नर्मदा घाटी में प्रशासनिक दमन और पुलिस बर्बरता का दौर जारी है। आंदोलन के कार्यकर्ताओं तथा घाटी के विस्थापितों के द्वारा शुक्रवार को कुक्षी, मनावर तहसील, आदिवासी क्षेत्र सोंदुल पट्टी, तथा बड़वानी जिले के कई गांव में बैठकें हुईं। इन बैठकों में बताया गया कि प्रशासन द्वारा दवाब डालकर उन्हें गांव खाली करने को कहा जा रहा है, ऐसा न करने पर मुकदमा दर्ज कर जेल में डाल देने की धमकी दी जा रही है। जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, मेधा पाटकर पर झूठे मुकदमे दर्ज किए गए हैं। वह नौ दिन से धार की जेल में हैं। इसके अलावा भी कई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। हजारों लोगों पर प्रकरण दर्ज किए गए हैं। बिना किसी अपराध के लोगों के साथ अपराधियों जैसा व्यवहार किया जा रहा है, अहिंसक लोगों पर हिंसा बरपाई जा रही है। हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं कि आंदोलन को कुचल दिया जाए। आंदोलनकारियों ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि आमजन की आवाजों को दबाया जा रहा है, ताकि हर उस संघर्ष को खत्म किया जा सके जो सरकार के भ्रष्टाचार, अलोकतांत्रिक, असंवैधानिक और अन्यायपूर्ण नीतियों को उजागर करने के लिए चल रहे हैं।

Share This Post

Post Comment