कड़े सुरक्षा घेरे में जन्म लेंगे कृष्ण कन्हैया

मथुरा, उत्तर प्रदेश/ईमरानः श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर कान्हा कड़े सुरक्षा घेरे में जन्म लेंगे। श्रीकृष्ण जन्म स्थान पैरामिलिट्री फोर्स के हवाले रहेगा तो शहर की सुरक्षा पीएसी और पुलिस के जवान संभालेंगे। सुरक्षा एजेंसियों ने भी मथुरा में डेरा डाल दिया है। 15 अगस्त को कान्हा के जन्मोत्सव पर देश-विदेश से लाखों श्रद्धालु मथुरा पहुंचेंगे। ऐसे में श्रीकृष्ण जन्मस्थान पर जन्मोत्सव को उमड़ने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ की सुरक्षा का खाका खींच लिया गया है। सुरक्षा व्यवस्था तीन जोन और 16 सेक्टरों में बांटी गई है। जोन के सुरक्षा प्रभारी एडीएम एवं एएसपी होंगे। सेक्टरों में डिप्टी कलक्टर एवं क्षेत्राधिकारी के हाथों में सुरक्षा होगी। एसपी सुरक्षा सिद्धार्थ वर्मा ने बताया कि 14 अगस्त को पैरामिलिट्री फोर्स और पुलिस-पीएसी के जवान अपने प्वाइंटों पर सुरक्षा की बागडोर संभालेंगे। व्यवस्था के लिए चार कंपनी सीआपीएफ, दो कंपनी आरएएफ, 14 कंपनी पीएसी, पांच एएसपी, 18 सीओ, 30 इंस्पेक्टर, 200 एसआई, 1200 आरक्षी, 17 महिला एसआई, 170 महिला आरक्षी और एक दर्जन घुड़सवार पुलिस मौजूद रहेगी। वहीं, केंद्रीय खुफिया एजेंसी की टीम ने अधिकारियों के साथ मीटिंग करके सुरक्षा प्लान के बारे में जानकारी ली। रेलवे स्टेशन से लेकर रोडवेज बस स्टैंड तक पर सुरक्षा का खाका खींचा गया। श्रीकृष्ण जन्मस्थान और शहर की हर गतिविधि 40 सीसीटीवी कैमरों में कैद होगी। जन्मस्थान की सुरक्षा में 17 सीसीटीवी कैमरे हैं। 23 कैमरे अतिरिक्त लगाए जाएंगे। एडीएम कानून व्यवस्था रमेश चंद ने बताया कि 10 वॉच टावरों पर मुस्तैद जवान वायनाकुलर, नाइट विजन एवं अत्याधुनिक हथियारों से लैस होंगे। 15 अगस्त की सुबह से शहर में वाहनों पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। चारों तरफ सील किए गए शहर में वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध के चलते श्रद्धालुओं के वाहनों के लिए 16 पार्किंग बनाई गई हैं। यह पार्किंग मथुरा में प्रवेश करने वाले स्थानों पर रहेगी। खासकर इन पार्किंगों पर सामानघर की व्यवस्था भी रहेगी। इसके अलावा सात सामानघर भी बनाए गए हैं।

Share This Post

Post Comment