नवजात को सुरक्षित तरीके से गोद लें

बरेली/उत्तर प्रदेश,गौरव भाटियाः यूनीसेफ के सहयोग से सिपसा का दो दिवसीय ट्रेनिंग कार्यक्रम अपर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य के सभागार मे संपन्न हो गया। राज्य प्रशिक्षक अमित कुमार सिंह तोमर ने बताया कि बताया कि बीसीपीएम ,डीसीपीएम ,एडी,एसीएमओ ,आरसी समेत 51 प्रतिभागियो ने भाग लिया। उनको आशा माडूल पर अघारित नवजात शिशू का वनज लेना ,तापमान लेना ,नवजात को कंबल मे लपेटना व हाथ धेना बताया।प्रशिक्षणार्थियो को आठ समूह मे बाटकर अभ्यास कराया।कार्यक्रम मे आशा ,संगिनी व एएनएम की भूमिका समझाई गई। प्रतिभागियो को छ समूह मे बाटकर कलस्टर रोल व्ले के लिय तैयार किया गया। मंडलीय परियोजना प्रंबधक शहिद हुसैन ने प्रशिक्षण का महत्व बताया।मंडलीय मनीटर शेभित शर्मा ने रिकाडिगं प्रपत्र ,ग्रह भम्रण चेक लिस्ट आदि को भरने के बारे मे बताया ।मंडलीय समन्वयक रंजीत कुमार व अपर निदेशक प्रमिला गौड ने कहा कि प्रशिक्षण का लाभ नवजात शिशू को मिलेगा।

Share This Post

Post Comment