तपस्या ही जीवन है

WhatsApp Image 2017-08-08 at 5.20.17 PM

जालोर, राजस्थान/धनपालः दान्तराई के जैन समाज द्रारा मुम्बई मे जोर शोर से चल रही है। तपस्या धनपाल जैन ने बताया की जैन समाज मे तप का महत्व सबसे अधिक है। नियम कायदो मे जैन धर्म सबसे उच्च स्थान पर आसिन है। मनुष्य जाति को संतुलित करने हेतु हि धार्मिक नियम बनाये जाते है। इन नियमो मे जैन धर्म मे बहुत अधिक कठोर नियमो का पालन किया जाता है। एेसे जीवन के उपवास भी होते है जिन्हे जीवन मे बनाये रखने के लिये तप की आवश्यकता होती है और तप का मार्ग सहज नही होता आत्मा शुद्ध के लिये जीवन मे नियमो का होना आवश्यक है।
दान्तराई की। तपस्वी रत्न
टीना बेन महेंद्र कुमार जगानी (31) उपवास
सिद्धितप तपस्वी
रेखा बेन अमृत भाई कर्णावत
रेखा बेन सुरेश भाई कर्णावट
नीता बेन प्रदीप कुमार जगानी
कुमारी पूर्णा कुमार जगानी
सपना बेन कमलेश भाई जगानी
पिंकी बेन किशोर कुमार चौहान
अरुणा बेन दिनेश कुमार चौहान
निकिता किशोर कुमार काकरिया

Share This Post

Post Comment