फतेहाबाद में बीजेपी नेता की गुंडागर्दी से एंबुलेंस में मरीज की मौत

चंड़ीगढ़/नगर संवाददाताः बीजेपी नेता सुभाष बराला के बेटे पर छेड़खानी के आरोप के बाद एक और बीजेपी नेता पर दंबगई का आरोप लगा है। हरियाणा के फतेहाबाद में बीजेपी नेता और नगरपरिषद प्रधान दर्शन नागपाल की दबंगई से एंबुलेंस में ही एक मरीज की जान चली गई। दरअसल, 42 साल के नवीन कुमार नाम के शख्स की अचानक तबीयत खराब हो गई थी। तबीयत खराब होने के बाद परिवार वाले उन्हें एक निजी अस्पताल में लेकर गए। यहां डॉक्टर ने हार्ट की तकलीफ बताते हुए नवीन को रेफर कर दिया। इसके बाद परिवार वाले एक प्राइवेट एंबुलेंस से नवीन को दूसरे अस्पताल ले जा रहे थे। पुलिस शिकायत के अनुसार एंबुलेंस जब मरीज को लेकर लालबत्ती चौक पर पहुंचे तो यहां होमगार्ड का ईशारा मिलते ही तुरंत एंबुलेंस चालक ने गाड़ी को चौक से निकालने की कोशिश की। इसी दौरान बीजेपी नेता दर्शन नागपाल की गाड़ी से एंबुलेंस की हल्की टक्कर हो गई।एंबुलेंस ड्राइवर सोनू के मुताबिक मरीज की हालत सीरियस थी लिहाजा वह चौक से निकल गया. इसके बाद दर्शन नागपाल ने एंबुलेंस का पीछा किया और कुछ दूर जाकर अपनी गाड़ी एंबुलेंस के आगे लगा दी। एंबुलेंस ड्राइवर के मुताबिक आगे गाड़ी लगाकर दर्शन नागपाल अपने दो साथियों के साथ उनकी तरफ आए। दर्शन नागपाल ने एंबुलेंस ड्राइवर से झगड़ा शुरू कर दिया। ड्राइवर और मरीज के परिवार वालों के लाख समझाने के बावजूद भी वो नहीं माने। दबंगई करते हुए दर्शन नागपाल ने एंबुलेंस से चाबी निकाल ली। मरीज के परिवार वालों की मिन्नतों के बावजूद चाबी वापस नहीं। मरीज के परिवार वालों ने हर्जाना देने तक की बात कही। इस पूरे घटनाक्रम के दौरान एंबुलेंस करीब बीस मिनट तक रुकी रही और जब मरीज को लेकर अस्पताल पहुंची तो ड़क्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मृतक नवीन के परिवार वाले दर्शन नागपाल को ही नवीन की मौत के लिए जिम्मेदार मान रहे हैं। परिवार वालों ने दर्शन नागपाल के खिलाफ पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई है। पूरे मामले पर पुलिस का कहना है कि घटना की जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

Share This Post

Post Comment