अब गांव-गांव पहुचेगा स्वच्छता अभियान का कारवां

अब गांव-गांव पहुचेगा स्वच्छता अभियान का कारवां

गौंड़ा, उत्तर प्रदेश/मयूर रैतानीः जिला प्रशासन की नई पहल, 18 स्वच्छता प्रचार वाहनों को डीएम व सीडीओ ने दिखाई हरी झण्डी गोंडा।जिले में स्वच्छता अभियान को रफ्तार देने तथा अभियान को गांव-गांव तक पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा एक और अनूठी एवं नई पहल का शुभारम्भ किया गया है। स्वच्छता के संदेश को जन-जन तक पहुंचाने तथा लोगों स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के लिए ब्लाक स्तर पर स्वच्छता वाहनों के माध्यम से प्रचार-प्रसार कराया जाएगा। डीएम जेबी सिंह व सीडीओ दिव्या मित्तल ने अभिनव प्रयोग करते हुए शुक्रवार को विकास भवन परिसर से स्वच्छता स्टीकर लगे अट्ठारह स्वच्छता प्रचार वाहनों को हरी झण्डी दिखाकर ब्लाकों के लिए रवाना किया। डीएम जेबी सिंह ने बताया कि जिले में स्वच्छता अभियान को जन आन्दोलन बनाने के लिए अभिनव प्रयोग किए जा रहे हैं ताकि जनपद को स्वच्छ बनाने के साथ-साथ जिले को प्रदेश व देश स्तर पर पहचान दिलाई जा सके। उन्होने कहा कि स्वच्छता वाहनों के द्वारा गांव-गांव लोगों को स्वच्छता के फायदे, सीएलटीएस एक्टिविटी में प्रतिभाग कराने तथा शाौचालय बनवाने एवं उसकी उपयोगिता एवं आवश्यकता के बारे में बताया जाएगा। सीडीओ दिव्या मित्तल ने बताया कि इन्ही प्रचार वाहनों को भविष्य में मार्निंग फालोअप के लिए भी भेजा जाएगा जो सुबह-सुबह गांवों में जाकर लोगों को खुले में शौंच करने से रोकने के लिए प्रेरित करेगें। सीडीओ श्रीमती मित्तल ने बताया कि रक्षाबन्धन के अवसर पर बहनों को शौचालय गिफ्ट देने की जिला प्रशासन की अपील पर स्वप्रेरित होकर विकासखण्ड रूपईडीह के राजस्व गांव पण्डितपुरवा के ग्राम रूद्रपुर नौंसी निवासी एक भाई द्वारा अपनी बहन को रक्षाबंधन के गिफ्ट के तौर पर शौचालय देने की सूचना जिला प्रशासन को दी गई है। जिसे डीएम व सीडीओ द्वारा पुरस्कृत एवं सम्मानित किया जाएगा। डीएम व सीडीओ ने पुनः अपील करते हुए कहा है कि रक्षांबंधन के अवसर पर भाई अपनी बहनों को उपहार के रूप में शौचालय दें। उन्होने कहा कि जो भी भाई तत्काल शौचालय न बनवा सकने की स्थिति हों वे शौचालय देने के संकल्प पत्र व फोटो के साथ सीडीओ कार्यालय में 12 अगस्त तक सूचना दें, उन्हें भी जिला प्रशासन द्वारा सम्मानित किया जाएगा। इसके अलावा स्वच्छता अभियान का सोशल मीडिया के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार हेतु स्वच्छ भारत अभियान का फेसबुक पेज/एकाउन्ट तथा व्हाट्सएप गु्रप बनाकर अद्यतन सूचनाएं, अपीलें और गतिविधियों की फोटो आदि डाली जायं । ग्रुप्स में पंचायत सचिवों, ग्राम प्रधानों सहित जनप्रतिनिधियों व सम्भ्रान्तजनों को जोड़ा जाए। डीएम व सीडीओ ने घोषणा की है कि स्वयं के प्रयासों से गांवों को ओडीएफ करने वाले ग्राम प्रधानों को जिला प्रशासन द्वारा अलग से सम्मानित किया जाएगा। इस अवसर पर डीपीआरओ घनश्याम सागर, डीपीसी अभय प्रताप सिंह रमन, डीपीसी पिंकी श्रीवास्तव, ऋषिकेश, बृजेश श्रीवास्तव, सुधीर सिंह, कल्पनााथ तिवारी व अन्य उपस्थित रहे।

Share This Post

Post Comment