बाढ़ और जल भराव की स्थिति कम होने के बाद चिकित्सा विभाग के कार्यो में और भी तेजी

पाली, राजस्थान/ महेन्द्र कुमारः पाली जिले में बाढ़ और जल भराव की स्थिति कम होने के बाद चिकित्सा विभाग के कार्यो में और भी तेजी आई है। पाली जिले में मौसमी बीमारियो से बचाव व ऱोकथाम के लिए पाली जिला कलेक्टर सुधीर कुमार शर्मा और जिला चिकित्सा अधिकारी डॉ सुरेन्द्र सिंह शेखावत ने जिले में जलभराव स्थल पानी सप्लाई स्थल पर दवाई छिड़काव और लोगो का घर घर जाकर उपचार मेडिकल चेकअप और दवाई वितरण करने के सख्त निर्देश दिए थे। इन निर्देशो के चलते ऊर्जा राज्य मंत्री पुष्वेन्द्र सिंह राणावत के बाली तहसील में बाली ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डॉ हितेन्द्र वागोरिया ने तहसील के समस्त पी एस सी, सी एस सी को जारी सख्त हिदायत से बाली उपखंड के गाव सहर ढाणियों में जलभराव स्थलो नालियो खड़ो पिने के जल श्रोतो में दवाई छिड़कने और घर घर जाकर बुखार पीड़ितों की रक्त पट्टिका लेने और निःशुल्क दवाई वितरण कार्य कर्मबंद किया जा रहा है। यह हम नही यह तस्वीरें कह रही है। सूत्रो के अनुसार बाली तहसील के हर गाव ढाणी में चिकित्सा टीम के इस कार्य की बाली उपखण्ड अधिकारी गौरव अग्रवाल ने भी प्रससा की है। इसमें चिकित्सा कर्मचारी व आशाए कार्य कर रही है ब्लाक चिकित्सा अधिकारी डॉ हितेन्द्र वागोरिया ने बताया की इसमें सरपच वार्ड पचो का भी सहयोग लिया जायेगा जो अपने वार्ड में दवाई छिड़काव से वचित रहे जलभराव स्थलो की जानकारी भी जुटाएंगेब्लॉक वही डॉ वागोरिया ने बताया की विभाग का प्रयास है की एक जगह भी वचित नही रहे। डॉ हितेन्द्र वागोरिया ने एक अपील करते हुए कहा की अपने गाव सहर मोहले में जल भराव नहीं रहने दे और नाली निकासी घर की छत कूलर में पानी एकत्रित ना रहे इससे मच्छर पनपने से बीमारी फैलने की आशका रहती है।

Share This Post

Post Comment