लखनऊ विश्वविद्यालय की छात्रा से छेड़खानी

लखनऊ, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः राजधानी में बहू-बेटियां महफूज नहीं हैं। लखनऊ विवि की स्नातक छात्रा से वहीं के छात्र ने दो साथियों संग मिलकर बीच सड़क छेड़खानी की और विरोध पर पिटाई तक कर की। घटना से आहत छात्रा ने विश्वविद्यालय जाना छोड़ दिया है। उसने दबंग छात्र को निलंबित कराने के लिए कुलपति को पत्र लिखा है। छात्रा ने आरोपित छात्र के निलंबन के बाद ही लविवि जाकर अपनी पढ़ाई जारी करने की बात कही है। पीड़िता एक सचिवालय अधिकारी की बेटी है। उसकी तहरीर पर सोमवार रात हसनगंज कोतवाली में लविवि के बीए तृतीय वर्ष के आरोपित छात्र शिवांग व उसके दो साथियों के खिलाफ छेड़खानी समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है। इंस्पेक्टर हसनगंज पीके झा के मुताबिक अभी आरोपित की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। छात्रा के मुताबिक शिवांग खुद को छात्र नेता बताकर छात्राओं से अश्लीलता करता है। वह लखनऊ विवि से बीए की पढ़ाई भी कर रहा है। बकौल छात्रा वह जब भी विश्वविद्यालय जाती है आरोपित छात्र उससे अश्लील हरकतें करता है। छात्रा ने लोकलाज के भय से मामला दबाए रखा तो आरोपित के हौसले बुलंद हो गए। आरोपित ने कई बार छात्र को सहेलियों के सामने अपमानित करने के लिए अश्लील कमेंट तक किए। सोमवार दोपहर तीन बजे के करीब छात्रा अशोक वाटिका के पास जीएसटी का फॉर्म लेने गई थी। वह फॉर्म लेकर घर लौट रही थी, तभी शिवांग ने रास्ता रोक लिया और बीच सड़क हाथ पकड़कर छेड़खानी शुरू कर दी। आरोपित के दोनों साथियों ने भी छेड़खानी की। छात्रा के विरोध पर शिवांग ने उसकी पिटाई कर दी। घटना के बाद से छात्रा ने खुद को घर में कैद कर लिया है। उसने बताया कि दबंग छात्र और उसके दोस्त गुंडे प्रवृत्ति के हैं, जो कभी भी उसे नुकसान पहुंचा सकते हैं। छात्रा का कहना है कि जब तक सभी आरोपी गिरफ्तार नहीं हो जाते वह विश्वविद्यालय नहीं जाएगी। पीड़ित छात्र के मुताबिक सोमवार दोपहर घटना के बाद वह सीधे कुलपति के पास गई, जहां से उसे एफआइआर कराने का आश्वासन मिला। देर रात छात्रा की तहरीर पर मुकदमा भी दर्ज हो गया। इसके बाद लविवि प्रशासन ने छात्रा से कहा कि बहुत जल्द आरोपित छात्रों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Share This Post

Post Comment