मोदी के जन्मदिन पर लगेगी 2 लाख फोटो की प्रदर्शनी, बनेगा विश्‍व रिकॉर्ड

जयपुर, राजस्थान/नगर संवाददाताः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन जयपुर में विशेष रूप से मनेगा। उनके जन्मदिन 17 सितंबर को जयपुर में उनके करीब दो लाख फोटाग्राफ्स की प्रदर्शनी लगाई जाएगी। इसके लिए एक लाख फोटोग्राफ इकट्ठा हो चुके हैं। यह काम जयपुर में रहने वाले मनमोहन अग्रवाल कर रहे हैं। बीकानेर के रहने वाले अग्रवाल पेशे से बिल्डर हैं और मोदी के बहुत बड़े प्रशंसक। वे अब तक छह विश्व रिकॉर्ड बना चुके हैं और मोदी के फोटोग्राफ्स की प्रदर्शनी भी वे एक विश्व रिकॉर्ड बनाने के लिए ही लगा रहे हैं। एक लाख फोटा इकट्ठा कर चुके अग्रवाल बताते हैं कि अब तक फोटोग्राफ्स की सबसे बड़ी प्रदर्शनी का रिकॉर्ड हांगकांग में बना है। यहां जुलाई 2010 में एक लाख 41 हजार 822 स्माइली फोटोग्राफ की प्रदर्शनी लगी थी। इस रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फोटोग्राफ्स की प्रदर्शनी लगाना चाहते हैं। अग्रवाल बताते हैं कि इस रिकॉर्ड के लिए वे गिनीज बुक से स्वीकृति ले चुके हैं और गिनीज बुक के नियमों के अनुसार इस प्रदर्शनी में कोई भी फोटो 3.9 गुणा 3.9 इंच से कम का नहीं होगा। हर फोटो के साथ उसका विवरण भी होगा। उनका दावा है कि वे अब तक करीब एक लाख फोटो इकट्ठा कर चुके हैं।प्रधानमंत्री के फोटोग्राफ्स के लिए उन्होंने केंद्र सरकार, प्रधानमंत्री कार्यालय और राजस्थान सरकार से भी संपर्क किया है। इसके अलावा वे जल्द ही सोशल मीडिया पर भी लोगों से प्रधानमंत्री के फोटो उन्हें भेजने की अपील जारी करेंगे। मोदी ही क्यों, इस बारे में पूछने पर अग्रवाल कहते हैं कि वे प्रधानमंत्री की नीतियों को बहुत पसंद करते हैं। उनकी नीतियों से एक बार बाजार में मंदी भले ही दिख रही है, लेकिन इनसे आम आदमी को बहुत फायदा होने वाला है और सबसे बड़ी बात यह है कि सरकारी दफ्तरों में कामकाज का माहौल बनने लगा है। मनमोहन अग्रवाल को अनोखे विश्व रिकॉर्ड बनाने का शौक लग गया है। वे वर्ष 1999 में ही एक अंतहीन कैलेंडर बना चुके हैं। इसका कॉपीराइट भी उनके पास है। उनका कहना है कि हर 700 वर्ष में कैलेंडर रिपीट होता है। जैसे 1901 में जो कैलेंडर था, वहीं कैलेंडर 2601 में होगा। उनके इस कैलेंडर में 1901 से 2600 तक के हर वर्ष की तारीख और वार देखे जा सकते हैं। 2008 में इस कैलेंडर में वे 2009 से 2035 तक के भारतीय त्योहारों की तारीखें भी डाल चुके हैं। यह कैलेंडर बनाने में अग्रवाल को छह माह का समय लगा। जीवन बीमा निगम और बीएसएनएल ने उनका कैलेंडर छाप कर वितरित भी किया। जयपुर में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने इसे लॉन्च किया था। इसके अलावा 120 गुणा 40 के आकार का सबसे बड़ा कैलेंडर, 40 फुट की लकड़ी की चम्मच, पोस्टकार्ड पर 64 हजार 691 बार राम नाम लिखने, 63 भाषाओं को उलटा लिखने जैसे रिकॉर्ड भी अपने नाम कर चुके हैं। अग्रवाल कहते हैं कि दो और विश्व रिकॉर्ड वो इस वर्ष पूरे कर लेंगे। उनका सपना है कि वे एक दिन में 36 विश्व रिकॉर्ड बनाएं।

Share This Post

Post Comment