न्यूड महिला-पुरुष की डंडे से पिटाई का वीडियो आया सामने, सोशल मीडिया पर वायरल

लखनऊ, उत्तर प्रदेश/राजू सोनीः सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें कथित रूप से एक युवा दंपती की नग्न हालत में पिटाई की बात कही जा रही है। दंपती को दलित बताया जा रहा है। इस वीडियो को लोग मनमानी तरीके से कभी किसी राज्य का बताते हैं तो कभी किसी राज्य का। फेसबुक पर इस वीडियो के सोर्स के बारे में किसी को प्रमाणिक रूप से खबर नहीं है। जब यह पोस्ट इंडिया संवाद की नजर से गुजरी तो हमने इसका वायरल सच जानने  की कोशिश की। इस दौरान घटना सही मिली, मगर  पीड़ित दलित नहीं थे, बल्कि युवा प्रेमी जोड़े थे। जिन्हें उग्र लोगों ने निर्वस्त्र कर सजा दी। मामला राजस्थान जिले का है। हालांकि इंडिया संवाद इसकी पुष्टि नहीं करता।  इंडिया संवाद ने जब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो की परतें खंगालना शुरू की तो पता चला कि यह घटना अप्रैल की है। राजस्थान पत्रिका की वेबसाइट पर 19 अप्रैल 2017 को एक खबर प्रकाशित हुई। जिसका शीर्षक रहा-युवक-युवती को निर्वस्त्र करने का मामला : युवती का किया 80 हजार में सौदा, बोले-मना किया तो जला देंगे जिंदा। जिले के शंभूपुरा गांव में प्रेमी युगल के साथ मारपीट करने और दोनों को निर्वस्त्र कर ढोल-नगाड़ों के साथ गांव में घुमाने के मामले में और भी भयावह पर्ते खुली है। इस आमनवीय घटनाक्रम के बाद भी लोगों का मन नहीं भरा और युवती को दूसरी शादी (नातरे) के लिए 80 हजार में सौदा कर दिया। युवती और उसके परिजनों को जिंदा जला डालने की धमकी तक दे डाली। दूसरी ओर, इस सनसनी खेज मामले के सामने आते ही प्रशासन में हड़कंप मच गया है। मामले की तह तक जाने के लिए कलक्टर , एसपी सहित आला अधिकारियों ने गांव तक की दौड़ लगा दी। वहीं, पुलिस से मामले की पड़ताल के लिए कुछ लोगों को हिरासत में लिया है। युवक-युवती को निर्वस्त्र करने का मामला सामने आने के बाद दूसरे दिन बुधवार को प्रदेशभर में यह चर्चा का विषय बना रहा। मामले की गंभीरता को देखते हुए जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल तथा पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा सुबह जल्दी महात्मा गांधी चिकित्सालय पहुंचे और युवक की कुशलक्षेप पूछने के बाद पूरी वारदात की जानकारी ली। इंडिया संवाद की पड़ताल में दलितों को नग्न कर पीटने की खबर गलत साबित हुई। घटना हुई जरूर मगर प्रेमी जोड़े के साथ। जबकि कुछ लोग सोशल मीडिया पर कुछ यूं कहानी गढ़कर परोस रहे। जमाना बदल गया है. लेकिन हमारे समाज में आज भी दलितों पर अत्याचार हो रहे हैं। हालांकि शहरों में तो लोग इससे आगे निकल चुके हैं, लेकिन गांव में आज भी दलितों पर अत्याचार जारी हैं। इसी अत्याचार का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है, जिसे देखकर किसी का भी खून खोल उठेगा। जी हाँ  इस वीडियो में नग्न कर दलित महिला-पुरुष को डंडे से पीटते हुए गाँव के लोगों का हुजूम उसके पीछे चल रहा है. इस वीडियो में महिला को नग्न अवस्था में एक नग्न युवक अपनी गोद में लेकर जा रहा है. जबकि अन्य लोग उसकी डंडे से पिटाई कर रहे हैं। फिलहाल ये वीडियो किस राज्य के किस स्थान का है यह नहीं पता चल सका है। लेकिन सवाल इस बात का है क्या दलित महिला-पुरुष होना एक अभिशाप है। अगर है तो समाज के जो लोग उसे बुरी तरह से नग्न कर उसकी पिटाई कर रहे हैं। अगर इस महिला की बजाय उनके घर की कोई बहु, बेटी और अगर उनमें से किसी की वह मां होती तो क्या वे उसे भी इसी तरह से नग्न कर घुमाते। बहरहाल दरिंदगी की सारी हदें पार करने वाले इन दरिंदों को कड़ी से कड़ी सज़ा जरूर मिलनी चाहिए।

Share This Post

Post Comment