स्वस्थ होगा तन तो स्वस्थ होगा मन – मंथन

नई दिल्ली/अरविंद कुमार यादवः दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान के सामाजिक प्रकल्प मंथन द्वारा 23 जुलाई से 31 जुलाई 2017 तक बच्चों की शारीरिक जांच, दन्त जांच व नेत्र जांच हेतु सभी 18 संपूर्ण विकास केन्द्रों में मुफ्त स्वास्थ्य शिविर लगाए गए हैं। जैसा विदित ही कि अभावग्रस्त इलाकों में रहने वाले बच्चों में अक्सर स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं पाई जाती है, जिन्हें वे अमूमन नज़रंदाज़ कर देते है। स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याओं के कारण ये बच्चे अक्सर अपनी पढ़ाई भी ठीक से नहीं कर पाते और जिसकी वजह से छुट्टियों का दर भी काफी बढ़ जाता है। इस समस्या की गहरायी और पढ़ाई पर इससे होने वाले असर को बखूबी समझते हुए मंथन द्वारा समय-समय पर स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन किया जाता है। जांच के उपरान्त बच्चों के उपयुक्त इलाज की भी व्यवस्था की जाती है। इन शिविरों में न केवल बच्चे बल्कि उनके माता – पिता व समुदाय के अन्य लोग भी लाभ प्राप्त कर पाते हैं।

DSC_0036 edited

इन शिविरों में अपनी सेवाएं देने के लिए प्रतिष्ठित चिकित्सकों की टीम बुलाई जाती है, जो समय – समय पर आकर न केवल बच्चों की जांच करते हैं बल्कि हर बच्चे का स्वास्थ्य रिकॉर्ड भी तैयार करते हैं। इस रिकॉर्ड के माध्यम से बच्चे का स्वास्थ्य आकलन साल भर में बड़ी ही आसानी से किया जा सकता है और यदि कोई रोग है तो उसका समय पर सही उपचार भी संभव हो पाता है।
मंथन – संपूर्ण विकास केंद्र, दिव्य ज्योति जाग्रति संस्थान का सामाजिक प्रकल्प है। जिसमें अभावग्रस्त क्षेत्र जैसे शेहरी झुग्गियाँ, बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र, दूर दराज़ के गाँव अथवा कूड़ा बीनने वाली बस्तियों के बच्चों को मुफ्त में मूल्य आधारित शिक्षा प्रदान की जाती है। शिक्षा के साथ साथ उनके स्वास्थ्य, आहार, खेल-कूद, अथवा विभिन्न रोचक गतिविधियों के माध्यम से सम्पूर्ण विकास किया जा रहा है। यह सामाजिक आध्यामिक संस्थान गुरुदेव सर्व श्री आशुतोष महाराज जी के दिव्य मार्गदर्शन में निस्वार्थ भाव से क्रियान्वित है।

Share This Post

Post Comment