माध्यमिक शिक्षा समिति की बैठक सम्पन्न

माध्यमिक शिक्षा समिति की बैठक सम्पन्न

गोंड़ा, उत्तर प्रदेश/श्याम बाबूः प्राथमिक विद्यालयों से परीक्षाएं उत्तीर्ण कर माध्यमिक शिक्षा के लिए दाखिला लेने वाले विद्यार्थियों का दाखिला सरकारी या वित्त पोषित विद्यालयों में ज्यादा से संख्या में कराया जाए। इसके लिए बेसिक शिक्षा विभाग व माध्यमिक शिक्षा विभाग आपस में समन्वय बनाकर कार्य करें तथा उत्तीर्ण होने वाले छात्रों की ट्रैकिंग सुनिश्चित कराएं। यह निर्देश जिलाधिकारी जेबी सिंह ने कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जिला माध्यमिक शिक्षा समिति की बैठक के दौरान दिए हैं। माध्यमिक शिक्षा समिति की बैठक के दौरान डीएम ने निर्देश दिए कि बेसिक शिक्षा अधिकारी व जिला विद्यालय निरीक्षक जनपद में उच्च प्राथमिक विद्यालयों से उत्तीर्ण होने वाले छात्र-छात्राओं को इन्टर कालेजों में एडमीशन दिलाने हेतु माइक्रोप्लानिंग करके काम करें। उन्होने कहा कि जो भी विद्यालय बच्चों को टीसी देने में आना करेगें तो निश्चित ही उन विद्यालय के प्रधानाचार्यों के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जाएगा। उन्होने कहा कि शिक्षा व्यवस्था को सुधारने में व्यवधान उत्पन्न करने वाले विद्यालयों के प्रबन्धक, प्रधानाचार्य व विभागीय अधिकारी अब सुधार कर लें अन्यथा कार्यवाही करने में कोई कोताही नहीं की जाएगी। उन्होने कहा कि सरकार शिक्षा के प्रति अत्यन्त संवेदनशील है। इसलिए अधिकारी व्यक्तिगत रूचि लेकर ज्यादा से विद्यार्थियों का दाखिला कराएं। इसके अलावा शैक्षिक वातावरण बनाने के लिए भी सभी जरूरी कदम उठाएं जाएं जिससे बेहतर शिक्षा दी जा सके। एडी बेसिक ने समिति के सदस्यों का आहवान किया वे सब अपने-अपने सुझाव सीधे उन्हें दें। जिला प्रशासन द्वारा हर सम्भव सहयोग प्रदान किया जाएगा। उन्होने बेसिक शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा विभाग, समाजकल्याण विभाग, अल्पसंख्यक कल्याण विभाग व दिव्यांगजन विकास विभागों को आपसी तालमेल के साथ काम करने आहवान किया। बैठक में सीडीओ दिव्या मित्तल, एडी बेसिक एम.पी. सिंह, बीएसए संतोष कुमार देव पाण्डेय, जिला समाज कल्याण अधिकारी अंजनी कुमार वर्मा, जिला दिव्यांगजन कल्याण अधिकारी बीडी वर्मा, खण्ड शिक्षा अधिकारीगण, प्रचानाचार्य शहीदे आजत सरदार भगत सिंह इन्टर, एमएली शिक्षक संघ प्रतिनिधि व शिक्षक नेता अजीत सिंह व  उपस्थित रहे।

Share This Post

Post Comment