डीएम व एसपी ने दिव्यागों को बांटी ट्राईसाइकिल व बैसाखी

गोंड़ा, उत्तर प्रदेश/श्याम बाबूः मंगलवार को तहसील तरबगंज में आयोजित जिला स्तरीय तहसील दिवस में देवीपाटन मण्डल के मण्डलायुक्त एस0वी0एस0 रंगाराव और डीआईजी अनिल कुमार राय ने अचानक पहुंचकर मुआयना किया और स्वयं फरयिादियों की शिकायतें सुनीं तथा उनका निस्तारण किया। तहसील दिवस में पहुंचकर मण्डलायुक्त ने लम्बित शिकायतों की जानकारी ली। ज्ञात हुआ कि जनपद गोण्डा में तहसील दिवस के माध्यम से अब तक कुल 14308 शिकायतें प्राप्त हुईं हैं जिनमें से 13741 शिकायतों का निस्तारण कर दिया गया है। प्राप्त शिकायतों में तहसील सदर में 3881, करनैलगंज में 4065, तरबगंज में 2849 तथा मनकापुर में 3513 शिकायतें प्राप्त हुई हैं। प्राप्त कुल शिकायतों के सापेक्ष निस्तारण का प्रतिशत 96 प्रतिशत रहा है जबकि कुल 552 शिकायतें अभी निस्तारण के लिए विभिन्न स्तरों पर लम्बित हैं। फरियादियों की शिकायतों के निस्तारण के दौरान मण्डलायुक्त ने राजस्व व पुलिस विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे सब जनता की छोटी से छोटी शिकायतों को गम्भीरता से लें तथा उनका समयबद्ध निस्तारण सुनिश्चित कराएं। उन्होने कहा कि अब जनशिकायतों की मानीटरिंग प्रदेश स्तर पर बड़ें पैमाने पर की जा रही है इसलिए जनशिकायतों में व्यक्तिगत रूचि लेते हुए सही और गुणवत्तापूर्ण निस्तारण हर हाल में सुनिश्चित करें अन्यथा कार्यवाही की जाएगी। जिलाधिकारी जेबी सिंह ने तहसील दिवस में बढ़ रही जनशिकायतों पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए राजस्व विभाग एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों-कर्मचारियों को सख्त चेतावनी दी है। जिलाधिकारी ने कहा कि तहसील दिवस में लगातार शिकायतों में इजाफा हो रहा है जिससे यह प्रतीत होता है कि राजस्व व पुलिस विभाग द्वारा जनता की शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण नहीं किया जा रहा है। उन्होने चेतावनी दी है कि भूमि विवादों या अवैध कब्जों के मामलों में गलत रिपोर्ट लगाने वाले लेखपालों व राजस्व निरीक्षकों के साथ-साथ सहयोग न करने वाले तथा जनता की शिकायतों में सिर्फ खानापूर्ति करने वाले राजस्व व पुलिस कर्मियों के खिलाफ शीघ्र ही कठोर कार्यवाही की जाएगी। तहसील दिवस में पूरेखाल लोढियाघाटा थाना कोतवाली देहात निवासी नाथूराम ने डीएम को बताया कि हल्का लेखपाल रामविलास द्वारा विपक्षियों से मिली भगत करके सरकारी जमीन पर कब्जा करा दिया गया है। इससे नाराज डीएम ने एसडीएम को आदेश दिए हैं कि चाौबीस घन्टे में अवैध कब्जा न हटवाने की दशा में लेखपाल को निलम्बित करके उसकी बर्खास्तगी की कार्यवाही शुरू कराएं। पीड़ित ने बताया कि उसने कुल मिलाकर तहसील दिवस तथा मुख्यमंत्री जनता दर्शन में दस बार प्रार्थनापत्र दिया परन्तु कार्यवाही नहीं हुई। डीएम ने एसडीएम से बुधवार शाम तक रिपोर्ट मांगी हैं। मुरलीधर पुत्र शिव बालक निवासी गोकुला ने थाना नवाबगंज ने बताया कि हदबरारी तथा किले बन्दी के बावजूद विपक्षियों की दबंगई के चलते कब्जा नहीं मिल पाया। डीएम ने एसडीएम तरबगंज को जांच कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। नयपुर निवासी अवनेन्द्र ने डीएम से शिकायत की कि सार्वजनिक खलिहान की भूमि पर गांव के ही दबंगो द्वारा अवैध कब्जा कर लिया गया है। डीएम ने पुलिस व राजस्व की संयुक्त टीम बनाकर खलिहान की भूमि को अवैध कब्जे से मुक्त कराने के निर्देश दिए हैं। तहसील दिवस में कुल 252 शिकायतें प्राप्त हुईं जिनमें से 12 शिकायतों का मौके पर निस्तारण कर दिया गया शेष शिकायतों के निस्तारण हेतु सम्बन्धित अधिकारियो को निर्देशित कर दिया गया।
तहसील दिवस के उपरान्त डीएम जेबी सिंह व एसपी उमेश कुमार सिंह ने दिव्यांगजन कल्याण विभाग के सहयोग से चार दिव्यांगों को ट्राईसाइकिल तथा दो दिव्यांगों को बैशाखी प्रदान किया। तहसील दिवस के मौके पर एसपी उमेश कुमार सिंह, सीएमओ डा0 आभा आशुतोष, डीएफओ टी0 रंगाराजू, एसडीएम तरबगंज उमेशचन्द्र उपाध्याय, पीडी वीरपाल, डीसीओ पी0एन0 सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी अंजनी कुमार वर्मा, डीएसओे पूरन सिंह चैहान, जिला जिला विद्यालय निरीक्षक राम खेलावन वर्मा, प्रोबेशन अधिकारी ओंकारनाथ यादव, तहसीलदार तरबगंज एस0एन0 त्रिपाठी, सीओ तरबगंज ब्रम्ह सिंह, नायब तहसीलदार तरबगंज सहित अन्य विभागों के अधिकारी, थानाध्यक्षगण व फरियादी उपस्थित रहे।

Share This Post

Post Comment