विकास योजनाओं में अपने रिश्तेदारों को चयन कर नियम के विरूद्ध लाभ पहुंचाने का आरोप

पश्चिम सिंघभूम, झारखंड़/मनोज निषादः नोवामुंडी प्रखंड के पोखरपी पंचायत के मुखिया पर आदिवासी हो समाज युवा महासभा के केद्रीय उपाध्यक्ष भूषण लागुरी ने विकास योजनाओं में अपने रिश्तेदारों को चयन कर नियम के विरूद्ध लाभ पहुंचाने का आरोप लगाया है। श्री लागुरी ने शनिवार को इस संदर्भ में एक ज्ञापन जगन्नाथपुर के अनुमंडल पदाधिकारी को सौंपा है। ज्ञापन में उन्होने कहा है कि मुखिया कृष्ण लागुरी फर्जी ग्राम सभा करते हैं। अपने रिस्तेदारों एवं नाजदिकी लोगों को विकास योजनाओं के अभिकर्ता बनाकर सरकारी राशि का एक रणनीति के तहत बंदरबांट कर रहे हैं। पंचायत में चल रही विभिन्न योजनाओँ सहित 2016-17 में ली गई 14 वेँ वित आयोग फंड द्वारा संचालित योजनाओं के स्थलीय जांच करने से स्वत इस गोरखधंधे का खुलासा होगा। इसमें कहा है कि जिस मार्ग से होकर आदमी और मवेशी तक नहीं आते जाते हैं, ऐसे रास्तों में पुलिया बन रहे हैं। कहा कि पुलिया शोभा की वस्तु बनकर रह गया है और सरकारी राशि का बंदरबांट किया गया। यहां के दर्जन भर पुलिया प्राक्कलन के मुताबिक नहीं बनाया गया है। इसमें मुखिया और वार्ड सदस्यों की मिलीभगत है। ज्ञापन में जनहित में एसडीओ से निष्पक्ष स्थलीय जांच करवाकर दोषी लोगों पर न्यायसंगत कार्रवाई करने की मांग की है।

Share This Post

Post Comment