सीवान में सोमवार को श्रावण मास को लेकर मंदिरों और शिवालयो में लोगो की उमड़ पड़ी भीड़

सीवान, बिहार/दीपक कुमार सिन्हाः सीवान में सोमवार को श्रावण मास को लेकर मंदिरों और शिवालयो में लोगो की भीड़ उमड़ पड़ी। इस बार सावन के पहले दिन ही सोमवार होने के कारण लगातार हो रही बारिश के बावजूद लोग सावन का पहला जलाभिषेक कर भगवान शंकर की पूजा अर्चना करने में लगे रहें। शहर के अति प्राचीन पंचमुखी महादेवा शिव मंदिर के साथ साथ सिसवन के प्रसिद्ध मेहंदार स्थित महेन्द्रनाथ धाम, मैरवा के बाबा हरिराम ब्रह्म स्थान और गुठनी के सोहगरा स्थित बाबा हंसनाथ धाम में हजारों की तादाद में जुटे लोगों और शिव भक्तो ने जलाभिषेक किया। सोमवार को भगवान शंकर का दिन माना जाता है। खासकर सावन महीने में इसका और ज्यादा महत्व होता है। वहीं इस बार सावन महीने की शुरुआत ही सोमवार से हुयी। इस अद्भुत सयोंग को लेकर सीवान के प्रसिद्ध पंचमुखी महादेवा शिव मंदिर में लोगो की भीड़ उमड़ पड़ी। लोग सावन के पहले सोमवार का जलाभिषेक कर भगवान शंकर की पूजा अर्चना करने में लगे रहें। दिन भर होती रही लगातार बारिश का भी लोगों की आस्था पर कोई असर नहीं डाल सक। वहीं सिसवन प्रखंड के मेंहदार स्थित बाबा महेंद्र नाथ मंदिर और गुठनी के सोहगरा धाम में रविवार के दिन से ही श्रद्धालु शिव भक्तो का जमावड़ लगने लगा. लोग अहले सुबह से ही सावन के पहले सोमवारी का जलाभिषेक के लिए लाईन में लग गयें। उधर, मैरवा के हरिराम ब्रह्म स्थान और दरौली के चकरी स्थित मौनिया बाबा मंदिर स्थित 11 फीट ऊँचे शिवलिंग पर जलाभिषेक करने के लिए भी भारी संख्या में श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। लोगों के बीच ऐसी मान्यता है कि सावन के पहले सोमवार के दिन भगवान शिव का जलाभिषेक कर व्रत रखने वालो पर भोलेनाथ की अटूट कृपा बनी रहती है और उनकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है। लिहाजा, इस बार सावन की सोमवार के दिन से ही शुरुआत होने को लाकर बड़ी संख्या में लोग सावन के पहले सोमवार का व्रत रखे हुए हैं। बता दे कि इस बार सावन का अन्तिम दिन भी सोमवार ही होगा।

Share This Post

Post Comment