छापेमारी में सील किए गोदाम में मिला सरकारी खाद्यान्न

गोंड़ा, उत्तर प्रदेश/श्याम बाबूः रविवार को डीएम के आदेश पर ब्लाक झंझरी के सील किए गए प्राइवेट गोदाम के मालिक संजय अग्रवाल पुत्र मुकुट लाल व अनोखे लाल निवासी रानी बाजार तथा सरकारी गोदाम के प्रभारी के खिलाफ कोतवाली नगर में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। यह जानकारी देते हुए जिला पूर्ति अधिकारी पूरन प्रताप सिंह ने बताया कि रविवार को सील किए गए गोदाम का ताला डीएसओ, एसडीएम सदर, तहसीलदार सदर, नगर कोतवाल, चैकी इन्चार्ज बडगांव, पूर्ति निरीक्षक सदर, तरबगंज व करनैलगंज अन्य अधिकारियों की उपस्थिति में तोड़ा गया और खाद्याान्न का मिलान किया तो गोदाम में सरकारी, खाद्यान्न पाया गया जिसमें कुल 257 बोरी चावल (एसबीटी), दो बोरी गेहूं (एसबीटी), लूज चावल 50 किलोग्राम, दो बोरियों लगभग बीस किलो चावल, तिगोड़िया, तराजू, बीस-बीस किलो के चार बांट, दस किलों के दो बांट, लगभग तीन किलोग्राम सुतली, दो चाकू, दो मोमबत्ती, दो झन्ना सहित अन्य सामान बरामद हुए। जांच में पाया गया कि गोदाम में रखा हुआ खाद्यान्न सरकारी है और अनोखे लाल नामक व्यक्ति द्वारा कालाबाजारी के लिए गोदाम में रखवाया गया था। जांचोपारान्त डीएम के आदेश पर पूर्ति निरीक्षक सदर विनोद कुमार की तहरीर पर कोतवाली नगर में आवश्यक वस्तु अधिनियम की सुंसगत धाराओं में दोनों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। वहीं सरकारी गोदाम के स्टॅाक मिलान में 4204 बोरी गेहूं, 2836 बोरी चावल का भारी अन्तर पाया गया। डीएसओ ने बताया कि 4204 बोरी गेहूं तथा 2836 बोरी चावल डिस्पैच माह के मिलान अगस्त 2017 के सापेक्ष गोदाम में ज्यादा पाया गया जबकि उक्त खाद्यान्न को रजिस्टर पर डिस्पैच दिखाया गया है। डीएम के आदेश पर गोदाम प्रभारी/विपणन निरीक्षक झंझरी धीरेन्द्र कुमार सिंह, सहित अन्य अज्ञात व्यक्तियों के नाम कोतवाली नगर में आवश्यक वस्तु अधिनियम की धारा में एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

Share This Post

Post Comment