जगन्नाथपुर अनुमंड़ल कार्यालय परिसर में शुरू हुआ निःशुल्क मोतिबिंद आॅपरेशन व जांच शिविर

जगन्नाथपुर अनुमंड़ल कार्यालय परिसर में शुरू हुआ निःशुल्क मोतिबिंद आॅपरेशन व जांच शिविर

पश्चिम सिंघभूम, झारखंड/मनोज निषादः कोल्हान प्रमंड़ल पश्चिम सिंहभूम जिला चाईबासा के अंतर्गत पड़ने वाले जगन्नाथपुर अनुमंडल के नोआमुंडी प्रखंड के बड़ाजामदा व नोवामुण्डी गांव के बाद अब टाटा स्टील और शंकर नेत्रालय द्वारा आयोजित निःशुल्क मोतियाबिंद शिविर जगन्नाथपुर अनुमंड़ल के कार्यालय परिसर मे यह शिविर पांच जुलाई से 14 जुलाई तक दस दिवसीय शिविर आरंभ हुआ है। शुक्रवार को उक्त शिविर का उद्घाटन क्षेत्रिय विधायक गीता कोड़ा द्वारा किया गया, और कहा गया की टाटा स्टील व शंकरनेत्रालय का संयुक्त प्रयास से लगाया यह शिविर शिविर इस सुदर वर्ती ग्रामीण क्षेत्र के लोगों के लिए यह सुनहरा अवसर है। इसका लाभ अधिक से अधिक लोग उठायें और अपने आंखों में रोशनी लाएं। वहीं ईलाज के लिए करिब दो सौ लोगों ने पंजीकरण कराया था। जबकी 9 जुलाई तक पंजिकरण व आंखों की जांच की जायेगी। इसके बाद दुसरे चरण लोगों के मोतियाबिंद का आॅपरेशन कार्य की जायेगी। 9 जुलाई से 14 जुलाई तक आॅपरेशन की जायेगी. अब तक हुए नेत्र जांच में 70 से अधिक लोग मोतियांबिंद के शिकार पाये गये। बाताया गया मोतियाबिंद से पीड़ित लोगों को सर्वश्रेष्ठ ईलाज मुहैया कराने के लिए बड़ाजामदा में 24 सदस्यों वाली एक मेडिकल टीम को नियोजित किया गया था। श्री पंकज सतीजा, जीएम, ओएमक्यू, टाटा स्टील ने मुख्य अतिथि के रूप में हिस्सा लिया। शिविर में शंकर नेत्रालय के डॉ. विभूति नारायण व डॉ. विमल, बड़ाजामदा के कल्याण पदाधिकारी श्री बसंत कंडुला, सेंट्रल हॉस्पीटल के डॉ. दीपक कुमार समेत टीएसआरडीएस के अधिकारी आदि मौजूद थे। इस पहल के बारे में बोलते हुए श्री सतीजा ने कहा, ’’समुदाय के लिए स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराना हमारी एक प्रमुख प्राथमिकता है। इन शिविरों के माध्यम से हम सुनिश्चित करते हैं कि हमारे परिचालन क्षेत्र और आसपास अवस्थित लोगों के जीवन की गुणवत्ता उन्नत हो।’’ इस शिविर का मुख्य आयोजन दूर-दराज के गांवों में मोतियाबिंद से ग्रसित बुजुर्ग ग्रामीणों तक मेडिकल सेवाएं पहुंचाना है। मरीजों की आंखों की जांच और ऑपरेशन की सुविधा पूरी तरह से निःशुल्क मोबाइल आई सर्जिकल यूनिट (मेसू) द्वारा उपलब्ध करायी गयी। शंकर नेत्रालय, चेन्नई ने आईआईटी, मद्रास के सहयोग से अत्याधुनिक मेसू को विकसित किया है। तामिलनाडु में सफलता के बाद शंकर नेत्रालय ने टाटा ट्रस्ट के साथ झारखंड में इस परियोजना का विस्तार किया है। इसमें टाटा स्टील द्वारा लॉजिस्टिक एवं ग्राउंड सपोर्ट प्रदान की जाती है। झारखंड के मुख्यमंत्री ने 31 जुलाई, 2016 को जमशेदपुर में मेसू की राज्य इकाई का उद्घाटन किया था।

Share This Post

Post Comment