कल से खुलेंगे स्कूल, 15 जुलाई के बाद ही मिल सकेगी यूनिफार्म

इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों में नया शैक्षिक सत्र अप्रैल में ही शुरू हो चुका है। इन विद्यालयों में पढऩे वाले छात्र-छात्राओं को निश्शुल्क यूनीफार्म मुहैया कराने का शासनादेश भी बीते 11 मई को ही जारी हुआ लेकिन, सर्व शिक्षा अभियान के राज्य परियोजना कार्यालय ने 28 जून को यूनीफार्म का बजट जिलों में भेजा है। एक जुलाई को विद्यालय खुलने हैं ऐसे में यूनीफार्म के लिए छात्र-छात्राओं को इंतजार करना होगा। जिस तरह से बजट जारी होने में देर हुई है, उसे देखते हुए यूनीफार्म जुलाई के दूसरे पखवारे में ही उपलब्ध हो पाने के आसार हैं। प्रदेश के राजकीय, परिषदीय व सहायता प्राप्त प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों और सहायता प्राप्त मदरसों में कक्षा एक से आठ तक की सभी बालिकाओं व अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और गरीबी रेखा के नीचे के परिवारों के बालकों को दो सेट निश्शुल्क यूनीफार्म मुहैया कराया जाना है। इसके लिए प्रति बच्चा 400 रुपये धन आवंटित किया गया है। बजट देर से जारी होने के कारण बच्चे पुराने यूनीफार्म में ही दिखेंगे। राज्य परियोजना निदेशक वेदपति मिश्र ने यह भी स्पष्ट निर्देश दिया है कि किसी भी दशा में रेडीमेड यूनीफार्म नहीं खरीदी जाएगी। उसकी गुणवत्ता गड़बड़ होने पर अफसरों पर कार्रवाई होगी। विद्यालय प्रबंध समिति को उनके खाते में तीन दिन में धन पहुंचाने का निर्देश है। इसके लिए अफसरों की जिम्मेदारी भी तय की गई है। परिषदीय विद्यालयों में किताबें भी अब तक पहुंच नहीं सकी हैं। बच्चों को पुरानी किताबों से ही शिक्षकों को पढ़ाना होगा। पुस्तकों की उपलब्धता भी जुलाई माह के दूसरे पखवारे में ही संभावित है।

Share This Post

Post Comment