तहसील दिवस से नदारद लेखपाल को डीएम ने किया निलम्बित

गोंडा, उत्तर प्रदेश/श्याम बाबू कमलः डीएम जेबी सिंह ने तहसील दिवस से बिना सूचना अनुपस्थित रहने पर खरगूचांदपुर के लेखपाल प्रमोद मिश्र को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है। इसके अलावा भूमि विवाद सम्बन्धी शिकायतों में फर्जी रिपोर्ट लगाने वाले लेखपालों के खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश एसडीएम को दिए हैं। यह कार्यवाही डीएम जेबी सिंह ने तहसील करनैलगंज में आयोजित जिला स्तरीय तहसील दिवस के अवसर पर फरियादियों की शिकायतों के निस्तारण के दौरान की है। मंगलवार को एसपी उमेश कुमार सिंह के साथ तहसील दिवस में पहुंचे डीएम ने सबसे पहले लम्बित शिकायतों का ब्यौरा तलब किया तो ज्ञात हुआ कि जनपद की चारों तहसीलों में तहसील दिवस में प्राप्त 13150 शिकायतों के सापेक्ष 538 शिकायतें निस्तारण हेतु लम्बित हैं जिनमें तहसील सदर में 3427 के सापेक्ष 202, करनैलगंज में 3719 के सापेक्ष 87, तरबगंज में 2639 के सापेक्ष 112 तथा तहसील मनकापुर में 3365 के सापेक्ष 137 शिकायतों सहित कुल 538 शिकायतें लम्बित हैं। डीएम ने लम्बित शिकायतों को एक सप्ताह के भीतर निस्तारित करने की चेतावनी दी है। उन्होने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि जनशिकायतों का गुणवत्तापूर्ण एवं समयबद्ध निस्तारण हर हाल में सुनिश्चित किया जाय तथा पुलिस व राजस्वकर्मी आपस में बेहतर समन्वय बनाकर जनता को न्याय देने का काम करें। उहोने साफ कहा कि जनशिकायतों के निस्तारण में खानापूर्ति कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी। डीएम ने लेखपालों तथा पुलिस विभाग के अधिकारियों को संयुक्त रूप से सम्बोधित करते हुए निर्देश दिए कि ज्यादातर शिकायतें भूमि विवाद से सम्बन्धित प्राप्त हों रहीं हैं। इसलिए पुलिस और राजस्व विभाग संयुक्त रूप से मामलों का सही और गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करें जिससे एक ही मामले बार-बार तहसील दिवस या जनता दर्शन न आएं और फरियादियों को बार-आर अधिकारियों के चक्कर न काटने पड़ें। तहसील दिवस में एक शिकायतकर्ता के प्रार्थनापत्र पर डीएम ने जब लेखपाल खरगूचांदपुर प्रमोद मिश्र को तलब किया तो पता चला वह बिना सूचना तहसील दिवस से नदारद हैं। डीएम ने लापरवाह लेखपाल को तत्काल प्रभाव से निलम्बित करने के आदेश एसडीएम करनैलगंज को दिए। तहसील दिवस में अर्जन दीक्षित ग्राम लालेमऊ करनैलगंज ने ग्राम प्रधान पर प्रधानमंत्री आवास हेतु सुविधा शुल्क मांगने का आरोप लगाते हुए शिकायत किया। डीएम ने मामले की जांच बीडीओ करनैलगंज को सौंपी है। देवेन्द्रनाथ मिश्र पुत्र राम विलास निवासी पचमरी ने बताया कि गांव के दबंगों द्वारा चकमार्ग पर अवैध रूप से कब्जा कर लिया गया हैं। शान्ती देवी पत्नी बुधराम निवासिनी उमरिया पहाड़ापुर ने  पट्टे की जमीन पर कब्जा कर लेने की शिकायत डीएम से की जिस पर डीएम ने एसडीएम को स्वयं जांच कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। इसी प्रकार हेतराम पुत्र राम केवल निवासी माधवपुर डीहा कटरा ने पटटे की जमीन पर अवैध कब्जे करने, चन्द्रबली पुत्र जमुना प्रसाद ने लिपिक द्वारा खतौनी में नाम न दर्ज करने की शिकायत दर्ज कराई गई। डीएम ने शिकायतों के निस्तारण हेतु पुलिस एवं राजस्व की संयुक्त टीम बनाकर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। तहसील दिवस में एसपी उमेश कुमार सिंह, एसडीएम करनैलगंज अर्चना वर्मा, सीएमओ डा0 उमेश यादव, डीएफओ टी. रंगाराजू, प्रभारी सीडीओ/पीडी वीरपाल, डीसी मनरेगा अशोक मौर्य, डीपीआरओ घनश्याम सागर, उपनिदेशक कृषि मुकुल तिवारी, सहायक निदेशक सूचना हंसराज, थानाध्यक्ष परसपुर देवेन्द्र पाण्डेय, चाौकी इन्चार्ज कस्बा करनैलगंज बी.एन. सिंह, सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Share This Post

Post Comment