नशे के कारण बढ़ रहे है दुष्कर्म, शर्मसार होते रिश्ते, कब सरकार अपनी चुप्पी तोड़ेगी-पूनम अंकुर छाबड़ा

नशे के कारण बढ़ रहे है दुष्कर्म, शर्मसार होते रिश्ते, कब सरकार अपनी चुप्पी तोड़ेगी-पूनम अंकुर छाबड़ा

जयपुर, राजस्थान/पूनम अंकुर छाबडाः प्रदेश में शराब के कारण अपराध और दुष्कर्म जैसे घिनोने क्रत्य लगातार बढ़ रहे है। कल ही एक बेहद शर्मनाक और दरिंदगी पूर्ण दुष्कर्म की घटना से इस नशे के कारण प्रदेश को रूबरू होना पड़ा। जयपुर के कानोता इलाके में एक नशेड़ी बाप ने शराब के नशे में अपनी मासूम बच्ची के साथ यह दिल दहला देने वाला दुष्कर्म कर डाला, रिश्तों को शर्मसार कर रहा यह नशा, ना जाने कितनी मासूम बच्चियों को इसका शिकार बन समाज में जीने के अधिकार से वंचित होना पड़ेगा और इन सब के लिये दोषी है यह नशा और नशे, शराब को सरक्षण देती राज्य की सरकार, जो मौन बनी बैठी है जब तक राज्य में नशे का कारोबार है तब तक राज्य सरकार को बच्चियों व महिलाओं की कड़ी सुरक्षा की तरफ़ ध्यान देना चाहिए। संपूर्ण शराब बंदी आन्दोलन जस्टिस फॉर छाबडा जी की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम अंकुर छाबडा ने इस घटना पर दुख और रोष प्रकट करते कहा कि सरकार की ज़िम्मेदारी है की वो समाज को साफ सुथरा माहौल और वातावरण दे और प्रदेश भर में दुःख भरा माहौल बना हुआ है। लगातार शराब के कारण अपराध, चोरी, डकैती, दुष्कर्म जैसी घटनाएँ बढ़ रहे है और सरकार मौन व्रत धारण किये हुए है। सरकार को जन हितार्थ में तुरन्त प्रभाव से प्रदेश में शराब बंदी लागू कर देनी चाहिए।

Share This Post

Post Comment