हर मुश्किल का हल ढूंढने की अफवाह उड़ा रहे मोदी: हुड्डा

देहरादून, उत्तराखंड/नगर संवाददाताः हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा केंद्र सरकार पर जमकर बरसे। आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने अपने तीन साल के कार्यकाल में सिर्फ यह अफवाह उड़ाई कि हमने हर मुश्किल का हल ढूंढ लिया है। जबकि हकीकत यह है कि आज देश में हर रोज 35 किसान आत्महत्या कर रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत प्रति बैरल 47.42 डॉलर होने के बावजूद देश में पेट्रोल 68 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है। कांग्रेस भवन में आयोजित प्रैस वार्ता में भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि यूपीए सरकार डीजल पर 1.46 रुपये सेस लेती थी, जबकि मोदी सरकार 7.96 रुपये सेस वसूल रही है। वर्तमान केंद्र सरकार ने पेट्रोलियम उत्पाद पर एक्साइज ड्यूटी से एक वर्ष में 233 लाख करोड़ रुपये कमाए, जबकि यूपीए सरकार ने वर्ष 2013-14 में इससे महज 77982 करोड़ रुपये ही कमाए थे। उन्होंने कहा कि किसानों का कर्ज माफ करने से इन्कार किया जा रहा है, जबकि यूपीए सरकार में 72 हजार करोड़ रुपये का कृषि ऋण माफ किया गया। रोजगार पर केंद्र को घेरते हुए हुड्डा ने कहा कि प्रति वर्ष दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का दावा करने वाली मोदी सरकार एक वर्ष में सिर्फ 1.35 लाख युवाओं को ही रोजगार दे पाई। कृषि बीमा योजना में शामिल कंपनियों ने लूट मचा रखी है। खरीफ की फसल पर केंद्र को 17185 करोड़ रुपये प्रीमियम प्राप्त हुआ, जबकि देश के मात्र 3.9 करोड़ किसानों को 6808 करोड़ रुपये ही बांटे गए। पत्रकारों से बातचीत में उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि सूबे की भाजपा सरकार की आबकारी नीति मातृ शक्ति के खिलाफ है। प्रदेशभर में महिलाओं के भारी विरोध के बावजूद शराब की दुकानें आवंटित करना इसका प्रमाण है। आरोप लगाया कि त्रिवेंद्र सरकार ने अभी तक किसी विकास योजना का खाका तैयार नहीं किया है।

Share This Post

Post Comment