हाईकोर्ट ने जजों को काफिर कहने पर जमात को लगाई फटकार

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः मद्रास हाई कोर्ट की मदुरै पीठ ने जमातुल उलमा सभा द्वारा जारी एक फतवे को लेकर उसे कड़ी फटकार लगाई है। तीन तलाक पर अंतरिम रोक लगाने के लिए हाई कोर्ट जाने पर जमात ने एक मुस्लिम महिला के पिता के खिलाफ फतवा जारी किया था। फतवे में कहा गया है कि महिला के पिता को हाई कोर्ट नहीं जाना चाहिए जहां काफिर जज इस्लामी कानून और कुरान के खिलाफ आदेश पारित करते हैं। साथ ही कहा गया कि जमात हाई कोर्ट को ऐसे गलत आदेश पारित नहीं करने देगा। न्यायमूर्ति पीएन प्रकाश ने जमात द्वारा यह फतवा जारी करने की निंदा की। उन्होंने कहा कि कोर्ट न्यायपालिका को नीचा दिखाने वाले इस फतवे और सेक्यूलर कोर्ट पहुंचने पर महिला के पिता को सजा देने को लेकर कड़ी आपत्ति जताता है। यह सचमुच में विक्षुब्ध करने वाली बात है।

Share This Post

Post Comment