‘दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के अन्य रिश्तेदार भी घोटाले में हैं शामिल′

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः रोड एंटी करप्शन ऑर्गेनाइजेशन (राको) के संस्थापक राहुल शर्मा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमला जारी रखते हुए पीडब्ल्यूडी विभाग में सड़क व नाले के निर्माण में हुए 250 करोड़ रुपये के घोटाले का पर्दाफाश किया है। उनका आरोप है कि यह घोटाले गत डेढ़ वर्ष में विभाग के सिर्फ दो जोन से संबंधित हैं। सड़क और नाले के निर्माण के लिए आवंटित राशि फर्जी कंपनियों को फर्जी बिल के माध्यम से दी गई। शर्मा के मुताबिक इसमें भी केजरीवाल के दिवंगत साढ़ू सुरेंद्र कुमार बंसल के अलावा उनके अन्य रिश्तेदारों की भी कंपनियां है। इस मामले में एनसीबी को दस्तावेज उपलब्ध करवा दिया गया है। राहुल ने ही केजरीवाल के साढ़ू के खिलाफ ठेके में धांधली का आरोप लगाया था। इस बाबत हाल ही में ग्रेटर नोएडा में इन पर हमला भी हुआ था। प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में आयोजित प्रेस वार्ता में राहुल आरोपों के तमाम दस्तावेज साथ लेकर आए थे। सारे दस्तावेज उन्होंने आरटीआइ के माध्यम से जुटाए हैं। राहुल शर्मा ने कहा कि वह पहले भी पीडब्ल्यूडी विभाग में घोटाले का पर्दाफाश कर चुके हैं। ताजा मामला पुरानी घटना से अलग है। वे पीडब्ल्यूडी के 14 डिविजन में हुए अनियमितताओं को उजागर करने में लगे हैं। फिलहाल दो जोन से उन्होंने जानकारी जुटाई है। वहां सड़क, नाले और अन्य सिविल कार्य में जबरदस्त भ्रष्टाचार किया गया है। करीब 100 कार्य में 250 करोड़ का घोटाला किया गया है। सिर्फ कागजों में काम किया गया। जिस स्तर पर घोटाला हुआ है इससे साफ है कि इसमें लोक निर्माण मंत्री सत्येंद्र जैन की पूरी मिलीभगत है। राहुल शर्मा ने बताय कि अन्ना आंदोलन का केजरीवाल ने गलत लाभ उठाया। इस मुद्दे पर उनकी अन्ना हजारे से बात हुई है। वे रालेगण सिद्धि जल्द रवाना होने वाले हैं। उन्होंने आंदोलन की चेतावनी देते हुए मांग की है कि मुख्यमंत्री विभाग के मुखिया सत्येंद्र जैन व भ्रष्टाचार में लिप्त अन्य अधिकारियों को 48 घंटे के भीतर निलंबित करें।

Share This Post

Post Comment