पत्नी की मौत से सदमे में आया पति, पत्‍नी की चिता पर ही तोड़ा दम

उधम सिंह नगर, उत्तराखंड/नगर संवाददाताः सच कहा है कि शादी सात जन्मों का बंधन है। यही एक रिश्ता ऐसा है, जो अंत समय तक साथ होता है। ग्राम भजुवा नगला में घटी एक ऐसी ही घटना रिश्त को परिभाषित कर गई। बलकार सरना की पत्नी बीना रानी लंबे समय से कैसर से पीड़ि‍त थी। बुधवार को उपचार के दौरान दिल्ली में उनका निधन हो गया, लेकिन पत्नी की मृत्यु ने उनको इतना अवसाद में पहुंचा दिया कि गुरुवार की सुबह उन्होंने भी वियोग में दम तोड़ दिया। परिजनों को जब यह सूचना मिली तो कोहराम मच गया। गुरुवार को उनका भी अंतिम संस्कार किया गया। गुरुवार को बलकार सरना के परिवारजनों ने चौकी बेरिया दौलत में लगभग दस बजे सूचना दी कि बलकार सरना गायब है। बताया गया कि प्रात: पांच बजे से उनसे संपर्क नहीं हो पा रहा है। काफी तलाश किया, पुलिस अभी जगह-जगह वायरलेस पर सूचना जारी कर ही रही थी कि पुलिस को एकाएक सूचना आई कि पत्नी के निधन के कारण वियोग में गए बलकार सरना का शव पत्नी की चिता के पास मिला है। पुलिस ने परिजनों को जब यह बताया और जाकर देखा तो कोहराम मच गया। दो दिन में दो लोगो की मौत ने सगे-संबंधियों को हिलाकर रख दिया। परिजनों ने उनका भी अंतिम संस्कार गुरुवार को कर दिया। बेरिया दौलत चौकी प्रभारी उमराव सिंह दानू ने बताया कि मृत्यु के कारणों का पता नही चल पाया है। परिवार के नहीं चाहने के कारण पोस्टमार्टम नहीं कराया गया है।

Share This Post

Post Comment