जोधपुर में पैसों के लिए इंसानियत का कत्ल, लाश को देख दंग रह गई पुलिस

जोधपुर में पैसों के लिए इंसानियत का कत्ल, लाश को देख दंग रह गई पुलिस

पाली, राजस्थान/महेन्द्र कुमारः शहर में पैसों के लेन-देन को लेकर इंसानियत फिर शर्मसार हुई। यहां गुरुवार को सामने आई हत्या की घटना ने सनसनी फैला दी। पुलिस के अनुसार पाल बालाजी मंदिर के पास रहवासी बहादुर सिंह ओड पिछले छह दिन से लापता चल रहा था। इस बीच पुलिस को गत 29 मई को एक मोटरसाइकिल बरामद हुई। तफतीश में यह बात सामने आई के यह बाइक बहादुर सिंह की है। इस पर पुलिस ने गहनता से जांच की तो मामले की पूरी तस्वीर साफ हो गई। पुलिस ने बताया कि मृतक बहादुर सिंह ओड मजदूरी का कार्य करता है। उसकी ठेकेदार लालचंद से लेनदारी थी। इस सिलसिले में वह गत 26 मई को झालामंड क्षेत्र में ठेकेदार से अपने बकाया छह हजार रुपए लेने गया हुया था। यहां ठेकेदार के साथी सुजान सिंह के साथ मिलकर उसने शराब का सेवन किया। यहां से दोनों बहादुर सिंह को झालामंड स्थित श्रीयादे माता मंदिर के पीछे की ओर स्थित श्मशान क्षेत्र में ले गए। यहां दोनों आरोपियों ने मिलकर लोहे के तार से उसका गला घोंट दिया और बोतल से वार कर शव वहां फेंक कर चले गए। इसके बाद आरोपी मृतक की मोटरबाइक से क्षेत्र स्थित निजी कॉलेज के पास नाले में बाइक को फेंक कर चले गए। पुलिस को अज्ञात बाइक मिलने पर तफतीश शुरू की। इस पर मृतक के भाई ने बताया कि बहादुर सिंह गत छह दिनों से लापता है और वह रुपए मांगने के लिए ठेकेदार के पास गया था। पुलिस ने आरोपी ठेकेदार लालचंद और सुजान सिंह को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उन्होंने शव यहां फेंकने की बात बताई। इस पर केबीएचबी थाने के निरीक्षक आनंद सिंह राजपुरोहित मय जाप्ता मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लिया और एम्स की मोर्चरी में पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। मृतक के चचेरे भाई कालूसिंह ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है।

Share This Post

Post Comment