संस्कृत शिक्षा के क्षेत्र में राजस्थान अग्रणी राज्य – डॉ चोटिया

जयपुर, राजस्थान/विकास शर्माः भारत संस्कृत परिषद् राजस्थान द्वारा आयोजित दस दिवसीय “संस्कृत संभाषण शिविर ” अम्बावाड़ी स्थित आदर्श विद्या मन्दिर मे आज सातवें  दिन के बौद्धिक सत्र में संभागीय संस्कृत शिक्षा अधिकारी डॉ के के चोटिया ने” राजस्थान में संस्कृत शिक्षा के परिप्रेक्ष्य में बताया कि सम्पूर्ण भारत देश में संस्कृत शिक्षकों की आपूर्ति करने वाला राजस्थान अग्रणी राज्य है। पूरे देश में स्वतंत्रत संस्कृत शिक्षा निदेशालय एवं संस्कृत शिक्षा मंत्रालय होने का गौरव  केवल राजस्थान प्रान्त को ही प्राप्त है। राजस्थान में संस्कृत शिक्षा के अध्ययन हेतु कक्षा प्रथम से आचार्य पर्यन्त शिक्षण संस्थान संचालित है। इन संस्थानों से अनेक संस्कृत विद्वान निकले हैं जिन्होंने न केवल राजस्थान का वरन् भारत देश को वैश्विक पहचान दिलाने का कार्य किया है। कार्यक्रम के अन्त में शिविर प्रभारी डॉ सी पी शर्मा ने धन्यवाद एवं आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर संगठन मंत्री रामकृष्ण शास्त्री, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजबिहारीशर्मा ,शिविराधिकारी पशुपतिनाथ मिश्र, महेशशर्मा, डॉ देवेन्द्र चतुर्वेदी, मुख्य शिक्षक रामकुमार कुमावत सहित समस्त शिक्षक-प्रबन्धक तथा प्रबुद्धजन उपस्थित रहे ।

Share This Post

Post Comment