दुष्कर्म मामले में नहीं हुआ समझौता, सगी बहनों ने SI को धुना, फाड़ दी वर्दी

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः दुष्कर्म के मामले में आरोपी से समझौता कर रुपये ऐंठने का प्रयास कर रही दो सगी बहनों ने महिला थाने की एसआइ व एक सिपाही के साथ मारपीट की और वर्दी फाड़ डाली। पुलिस ने दोनों बहनों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। महिला थाने में तैनात एसआइ सविता ने सेंट्रल थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया है कि वह ड्यूटी पर थी। उन्हें सूचना मिली कि सूरजकुंड के एक होटल में एक व्यक्ति ने नौकरी का झांसा देकर युवती से दुष्कर्म किया है। वह अन्य पुलिस कर्मचारियों के साथ मौके पर पहुंची और आरोपी को हिरासत में ले लिया। वह आरोपी के साथ शिकायतकर्ता युवती और उसकी बहन को महिला थाने लेकर पहुंची। वह मामला दर्ज करने की कार्रवाई कर रही थी। इस दौरान दोनों बहनें आरोपी से अकेले में बात करने की जिद करने लगीं। एसआइ सविता ने दोनों की आरोपी के साथ एक कमरे में अकेले में बात करा दी। इस दौरान एहतियात के तौर पर सविता ने अपना मोबाइल रिकॉर्डिंग में लगाकर उसी कमरे में छोड़ दिया। बातचीत के बाद एसआइ ने अपना मोबाइल फोन उठाया तो दोनों बहनों को रिकॉर्डिंग का पता चल गया। दोनों बहन उससे फोन मांगने लगीं। सविता ने मना किया तो उनका कहना था कि आरोपी जब दो लाख रुपये देकर समझौता कर रहा है तो वह क्यों समझौता नहीं होने दे रही हैं। आरोप है कि दोनों बहन एसआइ को भी रिश्वत देने की पेशकश करने लगीं। उसके इन्कार करने पर दोनों ने गाली गलौच करते हुए उसके साथ मारपीट शुरू कर दी। थाने में मौजूद सिपाही पिंकी ने एसआइ को बचाने का प्रयास किया तो दोनों ने उसकी वर्दी फाड़ दी और उसके साथ भी मारपीट करने लगीं। एसआइ का कहना है कि दोनों बहनों के मुंह से शराब की बदबू आ रही थी। जिसके बाद उसने शिकायत दे दी। पुलिस ने दोनों बहनों के खिलाफ मामला दर्ज कर सरकारी ड्यूटी में बाधा पहुंचाने का मामला दर्ज कर लिया है।

Share This Post

Post Comment