यूपी के मेरठ में किन्नरों का बवाल, पूर्व पार्षद हाजी फाको की मौत पर हंगामा

मेरठ, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः दो दिन पहले बदमाशों की गोली का शिकार बने मेरठ के पूर्व पार्षद किन्नर हाजी फाको की कल इलाज के दौरान मौत हो गई। फाको की मौत के बाद किन्नर समुदाय के लोगों ने अस्पताल में जमकर तोड़फोड़ की और हंगामा किया। किन्नरों के दो गुटों में इलाके पर कब्जे को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा था। मेरठ के आनंद हॉस्पिटल में कल किन्नर समुदाय के लोगों ने जमकर बवाल किया। किन्नरों के इस हंगामें के आगे पुलिस बेबस नजर आई और अस्पताल में आशांति छाई रही। किन्नरों ने अस्पताल में मौजूद कीमती सामान, कुर्सी, मेज सब कुछ तोड़ डाला और मरीजों के रिश्तेदारों की जमकर पिटाई की। इनके हंगामें की वजह पूर्व पार्षद औऱ किन्नर हाजी फांको की मौत थी। मेरठ के लिसाड़ी गेट इलाके में दो दिन पहले बदमाशों ने हाजी फांकों को घर में घुस कर गोलियां मारी थी। हाजी फाको इस इलाके में किन्नरों का गुरु था। हाजी फांको की मौत के बाद उनके समर्थकों का गुस्सा उबल पड़ा। करीब दो घंटे तक चले बवाल के बाद ये लोग खुद-ब-खुद शांत हो गए। इनका आरोप था कि अस्पताल के डॉक्टरों की लापरवाही से हाजी फाको की जान चली गई। पुलिस के मुताबिक इलाके पर कब्जे को लेकर किन्नरों के दो गुटों में आपसी रंजिश के चलते ये हत्या हुई है। इस विवाद में पहले भी एक हत्या हो चुकी है. पुलिस का कहना है कि बेवजह मरीज के रिश्तेदारों को पीटने और अस्पताल में तोड़फोड़ करने वालों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी। हैरानी की बात ये है कि हंगामें के वक्त पुलिस वहीं मौजूद थी, लेकिन फिर भी वो किसी को गिरफ्तार नहीं कर पाई।

Share This Post

Post Comment