हमीरपुर में तमंचा रानी, प्रेमी को विवाह के मंडप से उठाया

हमीरपुर, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः प्रेमिका को छोड़ दूसरी लड़की से शादी के सपने देखना एक युवक को काफी महंगा पड़ गया। युवक जब शादी रचा रहा था, तभी फिल्मी स्टाइल में पहुंची प्रेमिका उसे जनवासे से तमंचे के बल पर उठा ले गई। यह देख वहां अफरातफरी मच गई। दूल्हा गायब देख बरात बैरंग लौटी तो लड़की पक्ष पुलिस तक पहुंचा गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने दूल्हे के भाई व दो फोटोग्राफरों की हिरासत में ले लिया। बांदा जिले के मटौंध थाना क्षेत्र के मोहन पुरवा गांव निवासी रामहेत यादव का पुत्र अशोक कुमार यादव शहर के डॉ. शरदचंद्र चतुर्वेदी के क्लीनिक में नौकरी करता था। उसी क्लीनिक में काम करने वाली एक लड़की से अशोक के प्रेम संबंध हो गए। दोनों ने एक-दूसरे से शादी करने समेत तमाम वादे भी किए। मगर, प्रेमी अशोक उन वादों से मुकर गया। अशोक की शादी हमीरपुर के मौदहा कोतवाली क्षेत्र के भवानीपुर गांव निवासी राम संजीवन की बेटी भारती से तय हो गई। सोमवार को तय कार्यक्रम के अनुसार अशोक की बरात भवानीपुर गांव आई थी। शाम को कन्या पक्ष ने बरातियों की आवभगत की। उसके बाद जयमाल कार्यक्रम और भोजन आदि हुआ। रात डेढ़ बजे करीब चढ़ावा चढ़ाने का कार्यक्रम चल रहा था और दूल्हा अशोक कुछ बरातियों के साथ जनवासे में मौजूद था। इसी बीच अशोक की प्रेमिका दो युवकों के साथ स्कार्पियो से जनवासे पर पहुंची और फिल्मी स्टाइल में उतरकर उसने अशोक के सिर पर तमंचा लगा दिया और बोली ‘प्यार हमसे किया और शादी किसी दूसरे से….यह बर्दाश्त नहीं। अचानक प्रेमिका को इस रूप में देखकर दूल्हा बने अशोक की सिट्टी-पिट्टी गुम हो गई। अन्य बराती देखते रह गए और प्रेमिका अशोक को स्कार्पियो में बैठा फरार हो गई। घटना के बाद बरातियों में हड़कंप मच गया। घरातियों ने यूपी 100 को मामले की जानकारी दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दूल्हा अशोक के भाई जयेंद्र व फोटोग्राफर रामनाथ व उसके बेटे रोहित को हिरासत में लेकर कोतवाली पुलिस को सौंप दिया। कोतवाली पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। प्रेमिका व अशोक का अभी तक कुछ पता नहीं चल सका।

 

Share This Post

Post Comment