इलाहाबाद में वाइस प्रिंसिपल ने फोड़ डाली छात्र की आंख

अलाहाबाद, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः प्रार्थना के दौरान पीठ से स्कूल बैग नहीं उतारने पर सेंट जोसेफ स्कूल एंड कॉलेज के वाइस प्रिसिंपल ने एक छात्र की आंख ही फोड़ डाली। क्रूरता की हद पार कर देने वाली इस घटना से स्कूल में खलबली मच गई। लखनऊ में कई दिनों तक इलाज कराने के बाद छात्र के घरवालों ने शुक्रवार रात सिविल लाइंस थाने में वाइस प्रिंसिपल फादर लेसली कोटिनो के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई। सिविल लाइंस थाना क्षेत्र स्थित एंग्लो इंडियन कॉलोनी में रहने वाला सेरवेन टेरेंस जुडलारिव (16) सेंट जोसेफ स्कूल एंड कॉलेज में 12वीं का छात्र है। उसके पिता सिडनी ला रिवेरे इंग्लैंड में नौकरी करते हैं। मां सेरोन ला रिवरीया बिशप जानसन स्कूल में शिक्षिका हैं। सेरवेन अपने माता-पिता का इकलौता बेटा है। वह नौ मई की सुबह स्कूल गया था। करीब सात बजे स्कूल में असेंबली प्रार्थना होनी थी। सभी बच्चे लाइन में लगे थे। आरोप है कि इसी दौरान फादर लेसली कोटिनो ने स्कूल बैग उतारने में देरी होने पर पहले श्रेयांस जायसवाल की छड़ी से पिटाई की। इसके बाद सेरवेन को पीटने लगे। दाहिने आंख में छड़ी लगते ही सेरवेन की आंख से तेजी से खून बहने लगा। यह देख छात्रों में खलबली मच गई। आनन-फानन स्कूल के शिक्षक व कर्मचारी छात्र को लेकर नाजरेथ अस्पताल गए। हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने लखनऊ रेफर कर दिया। घटना की जानकारी पर मां सेरोन अस्पताल पहुंची तो वह बेटे की हालत देख बिलख पड़ीं। इसके बाद बेटे को लखनऊ ले जाकर भर्ती कराया। शुक्रवार शाम वह बेटे के साथ घर लौटीं और फिर थाने जाकर तहरीर दी। इंस्पेक्टर सिविल लाइंस मनोज तिवारी ने बताया कि छात्र के मां की तहरीर पर वाइस प्रिंसिपल के खिलाफ अंग भंग करने की धारा में रिपोर्ट दर्ज कर गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। आंख की रोशनी लगभग गवां चुके छात्र सेरवेन ने बताया कि स्कूल में अक्सर फादर लेसली कोटिनो छात्रों की बेरहमी से पिटाई करते हैं। इससे पहले भी उन्होंने कई छात्रों को पीटा था, जिनका कुछ दिनों तक इलाज चला था। श्रेयांस के गर्दन और गाल में गंभीर चोट लगी है। छात्र ने यह भी बताया कि अब उसकी दाहिनी आंख से कुछ दिखाई नहीं देता। वह कुछ समझ नहीं पा रहा कि पढ़ाई कैसे करे और आगे क्या करेगा।

Share This Post

Post Comment