50 डिग्री तापमान में सीमा पर चौकसी कर रहे जांबाज

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः राजस्थान का रेगिस्तान सोमवार को लगातार दूसरे दिन भी आग की तरह तपता रहा। पाकिस्तान सीमा से लगी दो चौकियों पर अधिकतम तापमान 50 डिग्री सेल्सियस के आसपास दर्ज किया गया, जबकि मुरार चौकी पर एक बार फिर तापमान 48.1 डिग्री तक पहुंच गया। वहीं हरियाणा के सिरसा और उत्तर प्रदेश के महोबा में तापमान 46 डिग्री दर्ज किया गया। उप्र में लू और गर्मी से चार लोगों की मौत हो गई। राजधानी दिल्ली व पंजाब के लुधियाना का तापमान 43 डिग्री के आसपास रहा। पहाड़ी राज्य उत्तराखंड व हिमाचल में गर्मी के बीच कुछ स्थानों पर हुई बारिश व बर्फबारी ने कुछ राहत दी है। मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के चलते मंगलवार को आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। आंधी चलने व गरज के साथ छींटे पड़ने के भी आसार हैं। तापमान में कुछ गिरावट की उम्मीद है। राजस्थान के जैसलमेर जिले में बबलियान वाला चौकी और तनोट चौकी पर भी तापमान 45.9 डिग्री रहा। तपती रेत के बीच सीमा की सुरक्षा कर रहे बीएसएफ के जवानों के लिए नींबू पानी उपलब्ध कराया जा रहा है। पानी के टैंकर जवानों तक पहुंचाने के प्रयास किए जा रहे है और साथ में खाली बोरियां होती हैं, जिन्हें भिगोकर लू से बचाव का प्रयास हो सके। हरियाणा में सोमवार को सिरसा का तापमान 46 डिग्री रहा, जबकि हिसार, जींद, भिवानी और चरखी दादरी का तापमान 45 डिग्री दर्ज किया गया। तापमान बढ़ने और लू चलने के कारण दिन में सड़कें सुनसान रहीं। उत्तर प्रदेश में प्रचंड गर्मी व लू से चार लोगों की मौत हो गई। महोबा में सोमवार को पारा 46.6 डिग्री के करीब पहुंच गया, जबकि फतेहपुर में पारा 45 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं पंजाब का लुधियाना 43 डिग्री तापमान के साथ सबसे गर्म रहा। दूसरी ओर उत्तराखंड में सोमवार को मौसम करवट ने करवट बदली। उत्तरकाशी व चमोली में ओलावृष्टि हुई, जबकि पिथौरागढ़ में बारिश, ओलावृष्टि के साथ ही हिमालय की ऊंची चोटियों पर हिमपात हुआ। मौसम विभाग के अनुसार अगले 10 दिन तक सूबे के अनेक हिस्सों में हल्की से मध्यम वर्षा और ओलावृष्टि की संभावना है। हिमाचल में पहाड़ों की रानी शिमला में लोगों को गर्मी से राहत नहीं मिली, जहां पारा 28.2 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा। ऊना जिले में अधिकतम तापमान 42.6 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया।

Share This Post

Post Comment