आगरा में शराब की दुकान में तोड़फोड़, लगाई आग

आगरा, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः शराब की नई दुकान खुलने पर सोमवार सुबह महिलाओं का आक्रोश फूट पड़ा। लोहे के खोखे में रखी शराब की बोतलों में तोड़फोड़ के बाद आग लगा दी। इसके बाद खोखे को भी पलट दिया। एत्माद्दौला के नगला देवजीत नई आबादी में रहने वाली महिलाएं और पुरुष सुबह 10 बजे ग्यारह सीढ़ी के पास पहुंच गईं। यहां लोहे के खोखे में शराब की बिक्री हो रही थी। महिलाओं ने पहुंचते ही तोड़फोड़ शुरू कर दी। उनके तेवर देखकर सेल्समैन भाग गया। इसके बाद महिलाओं ने शराब की बोतलें निकालकर आग के हवाले कर दीं। इतने पर भी उनका गुस्सा शांत नहीं हुआ तो लोहे के खोखे को सड़क से उठाकर पास के खेतों में पलट दिया। करीब एक घंटे तक महिलाएं वहां हंगामा करती रहीं। उनका कहना था कि शराब ठेका खुलने से बच्चों की पढ़ाई पर बुरा असर पड़ेगा। वे इसे किसी हालत में नहीं खुलने देंगी। पुलिस ने बची हुई शराब की बोतलें जब्त कर लीं और ठेके को बंद करा दिया। इसके बाद ही महिलाएं वहां से गईं। सत्याग्रह कर शराब बंदी की मांग: शराब बिक्री बंद करने की मांग को लेकर सोमवार सुबह स्वतंत्रता संग्राम सेनानी चिम्मन लाल जैन ने एत्माददौला थाना परिसर में सत्याग्रह किया। इस दौरान उन महिलाओं का सम्मान किया, जिन्होंने कुछ दिन पहले शहर में शराब की दुकानों को बंद कराया था। इन महिलाओं ने कहा कि वे शराब बंदी की मांग पर जैन के संग हैं।

Share This Post

Post Comment