जवानों को किया अलर्ट, अपने पैतृक घर जाने से कुछ महीनों तक बचें

श्रीनगर, जम्मू कश्मीर/नगर संवाददाताः जम्मू-कश्मीर पुलिस और सेना के जवानों पर लगातार हो रहे हमलों के बाद अब उन्हें सतर्क और कुछ महीनों तक पैतृक गांव न जाने की सलाह दी गई है। इसके साथ ही जवानों के घरों और परिवार के सदस्यों पर भी आतंकियों के हमले के मद्देनजर यह कदम उठाया गया है। जम्मू-कश्मीर पुलिस मुख्यालय द्वारा इस एडवाइजरी को जारी किया गया है। इस एडवाइजरी में विशेष तौर पर दक्षिणी कश्मीर के रहने वाले पुलिस कर्मियों को अपने घर जाते समय बहुत अधिक सावधानी बरतने की सलाह दी गई है। इस बात का अंदेशा जताया गया है कि कुछ आतंकी और अराजकतत्व घात लगाकर बैठे हैं। अगर पिछली घटनाओं पर नजर डाले तो कई बार पुलिस के काफिले पर हमला और बंदूक लूटने के मामला सामने आ चूका है। गौरतलब हो कि इस हफ्ते जब सेना के जवान आतंकियों को पकड़ने के लिए जम्मू कश्मीर के शोपियां जिले में गए थे। उस वक्त कुछ लोगों ने सेना के काफिले पर फायरिंग करने लगे और उसका फायदा उठाकर आतंकी सुरक्षा बलों को चकमा देकर भागने में सफल रहे। इस घटना में एक व्यक्ति घायल भी हो गया था। वहीं बटमालू क्षेत्र में बीएसएफ के जवानों की ओर से फायरिंग में एक व्यक्ति की मौत हो गई।

Share This Post

Post Comment