मायावती के साथ गठबंधन को तैयार हैं समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव

लखनऊ, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः  समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि ईवीएम पर भरोसा नहीं किया जा सकता इसलिए वह चुनाव आयोग से ‘बैलट’ से ही चुनाव कराने की मांग करते हैं। अखिलेश ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘ईवीएम (इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन) कब खराब हो जाए। सॉफ्टवेयर कब धोखा दे जाए। मशीन पर कोई भरोसा नहीं कर सकता। हमें ईवीएम पर भरोसा नहीं है।’  उन्होंने कहा, ‘हमें सौ प्रतिशत भरोसा अपने बैलट पर है। हमारी मांग है कि चुनाव बैलट से हो। हम नहीं कहते कि ईवीएम अच्छी है या खराब।’ भारतीय जनता पार्टी पर उत्तर प्रदेश में ‘जनता को धोखा’ देकर सरकार बनाने का आरोप लगाते हुए अखिलेश यादव ने कहा, ‘जनता को कहीं ना कहीं लगा है कि उसे धोखा देकर (बीजेपी की ओर से) सरकार बनाने का काम किया गया है।’ उन्होंने कहा,‘पूरा का पूरा चुनाव धर्म और जाति के आधार पर लोगों के बीच नफरत फैलाकर लड़ा गया। धर्म और जाति के आधार पर जनता को लाभ देने की बात कहकर जनता से धोखे में वोट लिया गया।’ वहीं मायावती के साथ महागठबंधन के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि झूठ के खिलाफ राजनीति का रास्ता खुलना चाहिए। कोई गठबंधन हो तो हम उसके लिए तैयार हैं। मेरे पास समय काफी है, हम देश के सभी नेताओं से मिलेगे। आने वाले समय में देश में जो भी गठबंधन बनेगा, सपा उसमें अहम भूमिका निभाएगी। उन्होंने कहा है कि वह भाजपा के झूठ के खिलाफ गठबंधन को भी तैयार हैं। आपको बता दें कि मायावती ने भी गठबंधन की बात कही थी। इस तरह से यह लग रहा है कि आने वाले समय में चुनावी रण में भाजपा के खिलाफ समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी भी गठबंधन कर सकती हैं। वह बोले कि हम झूठ के खिलाफ हमेशा ही गठबंधन के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि हमने पहले भी ये कहा था और अभी भी कह रहे हैं। अखिलेश यादव ने कहा कि आज से समाजवादी पार्टी ने पूरे देश में सदस्यता अभियान शुरू कर दिया है। यह अभियान दो महीने तक चलेगा। अखिलेश यादव ने बताया कि उनकी पार्टी के लोग घर-घर जाएंगे और सदस्य बनाएंगे। मिस कॉल और सोशल मीडिया से बनें सदस्य पार्टी मिस कॉल और सोशल मीडिया से अधिक से अधिक लोगों तक पहुंच कर उन्हें पार्टी का सदस्य बनाएगी। वह सभी लोगों को समाजवादी पार्टी के सिद्धांत और कामों को बताया जाएगा। अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा ने उत्तर प्रदेश में से धोखे से सरकार बनाई है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने लोगों को धर्म और जाति के आधार पर बांट कर लोगों से धोखे से वोट ले लिए हैं। योगी सरकार पर निशाना साधते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी आने के बाद क्या अवैध बूचड़खानों पर पूरी तरह प्रतिबंध लग गया है। हमारे गांव में भी गाय हैं, लेकिन बीजेपी वाले हमें हिंदू मानने के लिए ही तैयार नहीं हैं। उन्होंने कहा, ‘हमें तो लगता है कि जब भी मंदिर जाएं तो फोटो ट्वीट करके जानकारी दें। शायद के इसके बाद हमें हिंदू मानें।‘ अखिलेश यादव ने बीजेपी पर चुटकी लेते हुए कहा कि अब तो दिन के हिसाब से रंग के कपड़े पहनने पड़ेंगे। बदली जा रही हैं खबरें अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान यह भी कहा कि भाजपा की सरकार में खबरें भी बदली जा रही हैं और कई बड़े मुद्दों को सही तरीके से नहीं उठाया जा रहा है।

Share This Post

Post Comment