पाकिस्तान एक ‘खतरनाक खेल′ खेल रहाः मनोहर पर्रिकर

गोवा/नगर संवाददाताः कुलभूषण जाधव मामले में पूर्व रक्षा मंत्री व गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा है कि पाकिस्तान एक ‘खतरनाक खेल′ खेल रहा है। जाधव को जासूसी के आरोप में पाकिस्तान ने मौत की सजा सुनाई है। पर्रिकर ने कहा कि पाकिस्तान खुद को भले ही कैसा भी दिखाए, लेकिन उसे समझना चाहिए कि यदि भारत ने जवाबी कार्रवाई शुरू की तो उसके पास मुकाबला करने की ताकत नहीं है। पर्रिकर ने कहा कि हम शांतिप्रिय हैं। हम उकसावा नहीं चाहते, इसलिए उन्हें जाधव को वापस भेज देना चाहिए।उन्होंने कहा कि पहले उन्होंने जाधव का अपहरण किया। वह पाकिस्तान में नहीं थे। वह ईरान में थे। ईरान ने कहा है कि तालिबान ने उनका अपहरण किया और वह उन्हें पाकिस्तान ले गया। पाकिस्तान की कुछ न कुछ करने की आदत है। पर्रिकर ने कहा कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उचित जवाब दिया है कि यदि जाधव को पाकिस्तान फांसी पर लटकाता है, तो भारत चुप नहीं बैठेगा। मनोहर पर्रिकर ने कहा कि कश्मीर का मुद्दा हल करना आसान नहीं है। इससे निपटने के लिए लंबी अवधि की नीति चाहिए। शुक्रवार को बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर की 126वीं जयंती के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में पर्रीकर ने कहा कि मेरी जगह दिल्ली नहीं है। मैं कभी दिल्ली का आदी नहीं हो पाया। मैं जब वहां बतौर रक्षामंत्री काम कर रहा था तो मुझ पर बहुत दबाव था। उन्होंने मीडिया के रवैये पर भी चर्चा की। पर्रीकर का कहना था कि मीडिया में होने वाली चर्चाएं चीजों को खराब कर देती हैं। पर्रिकर ने कहा कि मेरा मानना है कि कुछ बातों पर चर्चा कम होनी चाहिए और काम होने देना चाहिए। चर्चाएं नुकसानदायक हो सकती हैं। कश्मीर के मुद्दे पर मीडिया के प्रश्नों का उत्तर देते हुए पर्रीकर ने कहा, ‘आप इस मुद्दे को हल होते देखना चाहते हैं या केवल खबर बनाना चाहते हैं? यदि आप चाहते हैं कि इस दिशा में कुछ हो, तो खबरों में इसकी ज्यादा चर्चा मत कीजिए।’

Share This Post

Post Comment