पशुओं के लिए भी होगी आपातकालीन सेवा: पशुपालन मंत्री रेखा आर्य

देहरादून, उत्तराखंड/नगर संवाददाताः राज्य में पशुओं को आपातकालीन स्थिति में सुविधा मुहैया कराने के लिए 108 की तर्ज पर सेवा शुरू की जाएगी। पशुपालन मंत्री रेखा आर्य ने विभाग की समीक्षा के दौरान अधिकारियों के इस संबंध में कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए। इस मौके पर उन्होंने पशु चिकित्सा दिवस पर 29 अप्रैल को अल्मोड़ा जिले के सभी विकास खंडों में ए-एक वेटेरनरी वाहन चलाने के निर्देश भी दिए। गुरुवार को विधानसभा स्थित कार्यालय में विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक में राज्य मंत्री रेखा आर्य ने विभाग की योजनाओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि इन योजनाओं से पशुपालकों को रूबरू कराया जाए ताकि इनका लाभ वे ले सकें। उन्होंने अल्मोड़ा के भैंसोड़ा स्थित चारागाह में मत्स्य पालन और मुर्गी पालन, बकरी प्रजनन आदि की सुविधाएं विकसित करने के लिए कार्ययोजना बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। इस दौरान उन्होंने आवारा गायों के संरक्षण के लिए हर विधानसभा क्षेत्र में एक-एक पशुपालन केंद्र खोलने के निर्देश दिए। इसके लिए विधायक निधि और जिला योजना से राशि मुहैया कराई जाएगी। इन केंद्रों के माध्यम से गोमूत्र, गोबर से जैविक खाद तैयार करने और डेरी संचालन करने की योजना है। बैठक में अपर सचिव शेखर तिवारी, निदेशक डॉ. एसएस बिष्ट, सीईओ यूएलडीबी डॉ. कमल सिंह, सीईओ यूएसडब्ल्यूडीबी डॉ. अविनाश आनंद आदि मौजूद थे।

 

Share This Post

Post Comment