मुजफ्फरनगर में डॉक्टर समेत तीन का कत्ल

मुजफ्फरनगर, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः बुधवार को खतौली में भाजपा नेता की हत्या के बाद पनपा आक्रोश थमा भी नहीं था कि गुरुवार को कत्ल की तीन अलग-अलग वारदात से जिले में सनसनी मच गई और पुलिस तंत्र हिल गया। गुरुवार देर रात मुजफ्फरनगर शहर में चिकित्सक को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया गया। भोपा थानाक्षेत्र के गांव गड़वाड़ा में भाकियू नेता के पिता की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई। वहीं, गांव तेजलहेड़ा में किसान को धारदार हथियारों से हमला कर मौत के घाट उतार दिया। शहर कोतवाली क्षेत्र के चालीस फुटा रोड किदवईनगर में 30 वर्षीय डा. मेहरबान गुरुवार देर रात क्लीनिक पर मरीजों को देख रहे थे। इसी दौरान वहां पहुंचे अज्ञात युवक ने कहासुनी के बाद उन पर फायर झोंक दिया। गोली डाक्टर मेहरबान के पेट में धंस गई। वारदात को अंजाम देकर हमलावर फरार हो गया। फायरिंग होने से क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। डाक्टर का भाई रिजवान व अन्य लोग मेहरबान को जिला अस्पताल ले गए, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। कत्ल की वजह रुपये के लेनदेन का विवाद बताया जा रहा है। किदवई नगर में एहतियातन बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया। उधर, गुरुवार को गांव गड़वाड़ा में भाकियू नेता योगेश सिवाच के पिता जगमेहर को बाइक सवार युवकों ने गोलियां बरसाकर घायल कर दिया। भोपा के नर्सिंग होम में उपचार के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। इससे इतर छपार थाना क्षेत्र के गांव तेजलहेड़ा में किसान भीष्म सिंह गुर्जर की धारदार हथियारों से हमला कर हत्या कर दी गई। गन्ने के खेत में उनका खून से लथपथ शव मिला।

Share This Post

Post Comment