सीआरपीएफ ने कश्मीर में आतंक के ख़िलाफ छेड़ी नई मुहिम, 500 स्पेशल कमांडो तैयार

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः सीआपीएफ ने आतंकियों से निपटने के लिए 500 स्पेशल कमांडो तैयार किये हैं। कश्मीर में तैनात सीआरपीएफ की सभी कंपनियों से एक-एक ग्रुप तैयार किया गया है। आज तक की एक रिपोर्ट के मुताबित, तैयार किये गए इन स्पेशल कमांडो के ग्रुप को बहुत जल्द कश्मीर भेजा जाएगा, जहां आए दिन हो रहे आतंकियों के हमले के ख़िलाफ ये कमांडो नए तरीके से मोर्चा खोलेंगे। पिछले दिनों कश्मीर घाटी में सीआरपीएफ ने आतंकियों के ख़िलाफ कई बड़े ऑपरेशन किये हैं, जिनमें कई आतंकियों को मार गिराया गया वहीं कुछ जवान भी शहीद हुए। इन कमांडो के वहां पहुंचने से भविष्य में होने वाले इन ऑपरेशनों में सीआरपीएफ का पक्ष और मज़बूत होगा। कश्मीर के हाल ही में आतंकियों के साथ सुरक्षाबलों की मुठभेड़ बड़ी हैं। बडगाम, कुपवाड़ा, पुलवामा में सीआरपीएफ ने आतंकियों के साथ जमकर लोहा लिया है। लेकिन इसी के साथ उन्हें एक अलग तरह की चुनौती का सामना भी करना पड़ रहा है। स्थानीय लोगों के समर्थन से आतंकी सुरक्षाबलों पर हैंड ग्रेनेड और एके 47 जैसे हथियारों से हमला कर रहे हैं। इन लोगों को ढाल बनाकर आतंकी बच भी निकलते हैं। इन स्पेशल कमांडो को स्पेशल ट्रेनिंग देकर इन चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार किया गया है। सीआरपीएफ के इन 500 कमांडो को एक ख़ास तरह की ट्रेनिंग दी जा रही है। सीआरपीएफ के कमांडो ट्रेनिंग स्कूल में शारीरिक और मानसिक रूप से बेहद मज़बूत जवान ही टिकते हैं। ये जवान 16 किमी तक दौड़ सकते हैं और 40 किमी तक चल सकते हैं। वहीं, बिना खाए पिये कई दिन तक रह सकते हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, इन स्पेशल कमांडो को ऐसी स्पेशल ट्रेनिंग दी गई है जिससे ये रस्सी के सहारे 50 फिट ऊंचाई से उतर सकते हैं। इतना ही नहीं, ये सीधी दीवार पर चढ़ भी सकते हैं। इन्हें ख़ास तरीके से फायरिंग और ग्रेनेड फेंकने की ट्रेनिंग दी जा रही है। ये कमांडो जंगलों के अंदर तक छिपे आतंकियों को ठिकाने लगाने का माद्दा रखते हैं।

Share This Post

Post Comment