मुख्यमंत्री आदित्यनाथ का पहला दिन

लखनऊ, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने बतौर सीएम पहले दिन की शुरुआत की है। आदित्यनाथ ने मायावती की पार्टी बीएसपी के नेता की हत्या पर राज्य पुलिस प्रमुख से बात की। सूत्रों की मानें तो यूपी डीजीपी जावीद अहमद से राज्य में अपराध नियंत्रण के प्लान पर बात करते हुए उन्होंने सावधान रहने को कहा। 44 साल के आदित्यनाथ ने रविवार को यूपी के सीएम पद की शपथ ली थी। आदित्यनाथ के साथ दो डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा ने भी पद और गोपनीयता की शपथ ली। आदित्यनाथ ने शपथ ग्रहण के बाद कहा था कि उनकी सरकार बिना किसी भेदभाव के सभी के लिए काम करेगी। योगी आदित्यनाथ ने सूत्रों के मुताबिक जावीद अहमद से कहा कि वह राज्य की पुलिसिंग को और बेहतर करने के लिए सभी जिलों के पुलिस अधिकारियों से बात करें और 15 दिन में एक ब्लू प्रिंट के साथ आएं। भ्रष्टाचार के खिलाफ उठाए गए अपने पहले कदम में, उन्होंने सभी मंत्रियों से 15 दिन के भीतर संपत्तियों का ब्यौरा देने को कहा। मंत्रियों को यह भी हिदायत दी गई है कि वह मीडिया से बातचीत न करें। यूपी सरकार में मंत्री श्रीकांत शर्मा और सिद्धार्थ नाथ सिंह ही यूपी सरकार के औपचारिक प्रवक्ता रहेंगे। राज्य में बीजेपी के ये दो वरिष्ठ विधायक बाकी विधायकों की ट्रेनिंग प्रक्रिया के भी इंचार्ज होंगे। 403 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी ने 312 सीटें जीती हैं और उसके कई विधायक पहली बार चुनकर आए हैं। मुख्यमंत्री के रूप में चयनित होने के बाद ही आदित्यनाथ ने डीजीपी जावीद अहमद से मुलाकात कर नई सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में किसी प्रकार से कानून व्यवस्था न बिगड़ने देने को कहा था। अंदेशा था कि योगी समर्थक शपथ ग्रहण में कानून व्यवस्था के लिए खतरा बन सकते हैं।

Share This Post

Post Comment