पनामा पेपर लीक केस में केंद्र एक महीने के भीतर पेश करे सीलबंद रिपोर्ट: सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः पनामा पेपर लीक मामले की एसआईटी जांच की मांग पर मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। अदालत ने एक महीने के भीतर 6 रिपोर्ट को सील बंद लिफाफे में पेश करने का आदेश दिया है। अदालत  ने कहा कि केंद्र द्वारा रिपोर्ट पेश किए जाने के बाद एसआईटी जांच कराने के बारे में फैसला लिया जाएगा। कर चोरी के मामले पर सीबीडीटी और आरबीआई जवाब दाखिल कर चुके हैं। केंद्र सरकार को आज जवाब दाखिल करना था। सुप्रीम कोर्ट ने अगली सुनवाई के लिए 18 अप्रैल की तारीख तय की है। याचिकाकर्ता ने आरोप लगाया है कि भारत से टैक्स चोरी के जरिए निकाले गए पैसों का दोबारा भारत में ही निवेश कर दिया गया है। सेबी को भी इस पहलू पर जवाब देना है।

 

Share This Post

Post Comment