महाराष्ट्र में भ्रूण हत्या का आरोपी डॉक्टर कर्नाटक से गिरफ्तार

मुंबई, महाराष्ट्र/नगर संवाददाताः पश्चिमी महाराष्ट्र के सांगली जिले में भ्रूण हत्या करने वाले डॉक्टर बाबासाहेब खिद्रपुरे को पुलिस ने कर्नाटक से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी डॉक्टर की क्लीनिक भारती अस्पताल से थोड़ी ही दूरी पर सड़क किनारे 19 भ्रूण मिला था। भ्रूण मिलने के बाद डॉक्टर फरार हो गया था। दूसरी ओर महाराष्‍ट्र के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री दीपक सावंत ने बताया कि सांगली भ्रूण हत्‍या रैकेट मामले की जांच जारी है और मामले में रिपोर्ट आ जाने के बाद वे अपना बयान देंगे। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने बताया की जांच के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने मंगलवार को बताया कि मिराज पुलिस ने सोमवार रात डॉक्टर को कर्नाटक के बेलगाम से गिरफ्तार कर लिया। होम्योपैथिक डॉक्टर बाबासाहेब खिद्रपुरे का अस्पताल सांगली के म्हैसाल गांव में कर्नाटक सीमा से सात किलोमीटर की दूरी पर है। गिरफ्तारी से एक दिन पहले ही भ्रूण बरामद होने के बाद से फरार डॉक्टर की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने पांच टीमें गठित की थी। सांगली के एसपी दत्तात्रेय शिंदे ने बताया, ‘हमने 19 भ्रूण का डीएनए नमूना प्रयोगशाला को सौंपा है। इससे भ्रूण का लिंग निर्धारण किया जा सकेगा।’ पुलिस के अनुसार, एक मार्च को 26 वर्षीया स्वाती प्रवीन जामडाडे की मौत के बाद यह लोमहर्षक मामला सामने आया। महिला का 27 फरवरी को गर्भपात कराया गया था। महिला के परिजनों ने उसके पति प्रवीन के खिलाफ मामला दायर किया। दो बेटियों को जन्म देने के बाद तीसरी बार गर्भवती महिला को गर्भपात के लिए मजबूर किया गया था। जांच के दौरान पुलिसकर्मियों को म्हैसाल गांव में मिराज-बेलगाम रोड पर 19 भ्रूण फेंके हुए मिले। पुलिस ने कहा है कि चालीस बैगों में कंकाल और अन्य अवशेष भी बरामद हुए हैं। सभी को जांच के लिए भेजा गया है। इस अस्पताल में दो गोपनीय बेसमेंट कमरे मिले जहां गर्भपात कराया जाता था। कमरे गर्भपात की दवाएं मिली हैं। यह अस्पताल नर्सिग होम अधिनियम के तहत पंजीकृत नहीं है। होम्योपैथ में गर्भपात की इजाजत नहीं है।

Share This Post

Post Comment