अमेरिका के दो शहरों में चौबीस घंटे में दो भारतीयों पर हमला, एक की मौत

अंतर्राष्ट्रिय/नगर संवाददाताः अमेरिका के दो शहरों में बीते चौबीस घंटे में दो भारतीयों पर हमला हुआ है। साउथ कैरोलाइना में हुए हमले में भारतीय मूल के हर्निश पटेल की हत्या कर दी गई है, जबकि सिएटल में सिख दीप राय को गोली मारी गई। अमेरिकी शहर सिएटल में एक अज्ञात व्यक्ति ने 39 वर्षीय एक सिख को उसी के घर के बाहर गोली मारकर घायल कर दिया। हमलावर गोली चलाते समय चिल्लाते हुए कथित तौर पर कह रहा था- ‘‘मेरा देश छोड़ो, अपने देश वापस जाओ।’’ सिएटल टाइम्स की खबर के अनुसार, यह सिख व्यक्ति शुक्रवार को वॉशिंगटन राज्य के केंट शहर स्थित अपने घर के बाहर अपना वाहन ठीक कर रहा था, तभी वहां एक अज्ञात व्यक्ति आ गया। सुषमा ने ट्वीट कर कहा, “मुझे भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक दीप राय पर हमले के बारे में सुनकर दुख हुआ। मैंने उनके पिता हरपाल सिंह से बात की।” सुषमा ने कहा, “उन्होंने मुझे बताया कि उनके बेटे को बांह में गोली लगी है। वह खतरे से बाहर हैं और उनका निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है।” केंट पुलिस ने कहा कि दोनों व्यक्तियों के बीच कहासुनी हुई। पीड़ित का कहना है कि संदिग्ध व्यक्ति ने ‘‘अपने देश वापस जाओ’ जैसी बातें कहीं। इसके बाद अज्ञात व्यक्ति ने पीड़ित की बाजू में गोली मार दी। पीड़ित के अनुसार, हमलावर छह फुट लंबा एक श्वेत आदमी था। उसने अपने चेहरे के निचले हिस्से को एक नकाब से ढका हुआ था। केंट पुलिस प्रमुख केन थॉमस ने कहा कि सिख व्यक्ति को हालांकि कोई ‘‘जानलेवा चोट नहीं आई’’ है लेकिन वे ‘‘इसे एक बेहद गंभीर घटना के तौर पर देख रहे हैं।’’ रिपोर्ट में कहा गया कि केंट पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है और इसके लिए एफबीआई और अन्य कानून प्रवर्तन एजेंसियों से संपर्क किया है। अमेरिका के दक्षिणी कैरोलिना में भारतीय मूल के हर्निश पटेल की घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई। पटेल अपना जनरल स्टोर की दुकान चलाते थे। आपको बता दें कि बीते 22 फरवरी को कंसास के ओलेथ में हुए ‘नस्लीय हमले’ में भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचिभोटला की मौत हो गई और एक अन्य भारतीय नागरिक आलोक मदासानी घायल हो गए। कुचिभोटला पर गोली चलाने वाला पूर्व नौसिक कथित तौर पर हमले से पहले चिल्लाया था कि ‘मेरे देश से निकल जाओ।’  अमेरिका में नस्लीय हमले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। बीते 10 दिनों में तीन भारतीयों को निशाना बनाया गया है। इन हमलों में दो लोगों की जान चली गई।  22 फरवरी को कंसास में हुए नस्लीय हमले में कुचिभोटला की मौत हो गई थी। कंसास में 22 फरवरी को हुए हमले में आलोक मदासानी गंभीर रूप से घायल हो गए थे। गुरुवार (दो मार्च) को भी दक्षिण कैरोलिना के लैंकेस्टर में एक नस्लीय हमले में कारोबारी हरनीश पटेल की हत्या कर दी गई।  बीते शुक्रवार (तीन मार्च) को एक नकाबपोश हमलावर ने भारतीय मूल के एक सिख को उनके घर के सामने गोली मार दी। इस घटना में वह घायल हो गया। बंदूकधारी ने उस पर गोली चलाने से पहले उसे अमेरिका छोड़कर अपने देश लौट जाने की चेतावनी दी। हमलावर श्वेत बताया जा रहा है।

Share This Post

Post Comment