माउंटआबू के सर्वेश्वर रघुनाथ मंदिर में 72वां पाठोत्सव धूमधाम से मनाया

माउंटआबू के सर्वेश्वर रघुनाथ मंदिर में 72वां पाठोत्सव धूमधाम से मनाया

सिरोही, राजस्थान/स्टेनली मैकार्थीः माउंटआबू के सर्वेश्वर रघुनाथ मंदिर में 72वां पाठोत्सव धूमधाम से मनाया जा रहा है। माउंटआबू में यह परंपरा सदियों पुरानी है जिसे होली से पहले की होली के रूप में जाना जाता है। यह होली भगवान राम अपने भक्तों के बीच खेलते हैं। इस दौरान होली से पहले ही भगवान राम और शिव की यह नगरी होली के कई रंगों में रंगती हुई नजर आती है। भगवान राम के दर्शन और स्वागत का यह सिलसिला दो दिनों तक चलता है। माउंटआबू में भगवान राम की यह अनोखी यात्रा सर्वेश्वर रघुनाथ उत्सव के रूप में भी जानी जाती है। भगवान राम का रथ। फूल मालाओं से सजने के बाद चांदी का रथ दिव्यता के रंगों में रंगा दिखने लगा। अखिल भारतीय हिंदू धर्म सम्मेलन के साथ ही भगवान राम के इस अनोखे रथयात्रा उत्सव की तैयारी की जाती है। चादी के रथ को तैयार करने में घंटों लगते है जिसमें संतों की सलाह और वास्तु का भी ध्यान रखा जाता है। दरअसल सिया के राम को जिस रथ पर विराजमान करना होता है उसके लिए तैयारियां भी खास होती है जिसमें कई लोगों का सहयोग होता है। इसमें मंडलेश्वर टोली के संतों का भी यथोचित निर्देश होता है जो ध्यान में रखा जाता है। यह प्रक्रिया भक्ति और उल्लास से भरी होती है। इस मौके पर देशभर से आए साधु और संतों ने रामयज्ञ किया जिसमें कई मंडलेश्वर भी शामिल हुए । भंडारा में भगवान राम के प्रसाद को ग्रहण करने के बाद सर्वेश्वर रघुनाथ मंदिर के चांदी के रथ को सजाया गया।

Share This Post

Post Comment