2050 तक भारत में होगी दुनिया की सबसे ज्यादा मुस्लिम आबादी: प्यू रिसर्च

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः अमेरिकन थिंक टैंक प्यू रिसर्च सेंटर के मुताबिक 2050 तक दुनिया के अन्य देशों के मुकाबले भारत में सर्वाधिक मुस्लिम होंगे। इनकी आबादी करीब 30 करोड़ हो जाएगी। इसके पीछे वजह यह है कि दुनिया भर के अन्य धर्मों के मुकाबले मुस्लिम जनसंख्या में युवाओं की औसत आयु ज्यादा बेहतर है। हालांकि भारत में हिंदू ही बहुसंख्यक रहेंगे। फिलहाल जनसंख्या के मुताबिक ईसाई धर्म के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा धर्म इस्लाम ही है। इस्लाम अभी दुनिया का सबसे तेजी से बढ़ता धर्म भी है। प्यू रिसर्च के मुताबिक अगर वर्तमान की तरह जनसांख्यिकी ट्रेंड्स जारी रहे तो इस सदी के अंत तक मुस्लिमों की जनसंख्या ईसाइयों से ज्यादा हो जाने की उम्मीद है। द फ्यूचर ऑफ़ वर्ल्ड रिलीजन रिपोर्ट में कहा गया है कि 2050 तक दुनिया की आबादी 35 फ़ीसदी की दर से बढ़ेगी। अगर मौजूदा वृद्धि दर 2050 के बाद भी बरकरार रहती है तो 2070 तक दुनिया में सबसे ज़्यादा लोग मुस्लिम धर्म को मानने वाले होंगे। फिलहाल इंडोनेशिया सबसे ज़्यादा मुस्लिम आबादी वाला देश है जहां लगभग 25 करोड़ मुसलमान रहते हैं। रिपोर्ट के मुताबिक मुस्लिम जनसंख्या में वृद्धि, उनके माइग्रेशन और आईएस जैसे आतंकी संगठनों की हिंसक कार्रवाई ने कई देशों में इस धार्मिक समूह को डिबेट के बीच खड़ा कर दिया है। हालांकि रिपोर्ट ने इस ओर भी इशारा किया है कि कई जगहों पर मुस्लिमों से जुड़े कई तथ्यों की जानकारी ही नहीं है। छोटी मुस्लिम आबादी के साथ रहने वाले अमेरिकियों ने भी माना है कि वे या तो इस्लाम के बारे में नहीं जानते या कम जानते हैं। वहीं यूरोप में भी मुस्लिमों को लेकर दो फाड़ दिखा। जहां ब्रिटेन में करीब 27 फीसदी लोग ही मुस्लिमों को शंका की नजर से देखते हैं वहीं हंगरी में करीब 70 फीसदी की राय मुस्लिमों को लेकर अच्छी नहीं है। रिपोर्ट के अनुसार 2010 में दुनिया में 1.6 अरब मुस्लिम और 2.17 अरब ईसाई थे और यदि दोनों धर्म वर्तमान गति से बढ़ते रहे तो 2070 तक इस्लाम को मानने वालों की तादाद ईसाइयों से ज़्यादा होगी और तीसरे नंबर पर हिन्दू धर्म को मानने वाले लोग होंगे। रिपोर्ट के मुताबिक 2050 तक अमेरिका मे भी मुस्लिम आबादी बढ़ेगी। अभी अमेरिका मे मुस्लिमों की आबादी करीब 1 फ़ीसदी है और 2050 तक इसके 2.1 फ़ीसदी होने का अनुमान है। रिसर्च सेंटर की गुरुवार को जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक, 2050 तक दुनिया भर में हिंदू आबादी में 34 फीसदी की बढ़ोत्तरी होगी। 2050 में हिन्दुओं की आबादी दुनिया की 14.9 फीसदी होगी। रिपोर्ट कहती है कि 2050 तक यूरोप की आबादी में 10 फीसदी मुस्लिम होंगे जो वर्ष 2010 में 5.9 फीसदी थे।

Share This Post

Post Comment