भाजपा प्रमुख के बेटे की शादी में दिखी भाजपा-शिवसेना की कड़वाहट

औरंगाबाद, महाराष्ट्र/नगर संवाददाताः महाराष्ट्र भाजपा के अध्यक्ष रावसाहब दानवे के बेटे और भाजपा विधायक संतोष दानवे की शादी में आज शाम यहां प्रदेश से विभिन्न दलों के बड़ी राजनीतिक दिग्गज पहुंचे। इस भव्य शादी समारोह में मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस, पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे, विधानपरिषद में विपक्ष के नेता धनंजय मुंडे, कई केंद्रीय मंत्रियों एवं महाराष्ट्र सरकार के मंत्रियों समेत प्रदेश की कई बड़ी राजनीतिक हस्तियां पहुंचीं। फड़णवीस ने शादी के मंच से कहा कि हम दो साल से इंतजार कर रहे थे कि संतोष की कब शादी होगी। मुख्यमंत्री ने नवदंपति को शुभकामनाएं दी और आशा प्रकट की कि वे प्रदेश की सेवा करेंगे। लेकिन शादी में बीजेपी और शिवसेना के बिगड़ चुके रिश्तों की तस्वीर एक बार फिर दिखी। महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष रावसाहेब दानवे के बेटे की शादी में शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे और पार्टी के आला नेता नहीं पहुंचे। इतना ही नहीं देवेंद्र फड़णवीस सरकार में शिवसेना के कोटे से मंत्री औरंगाबाद से रामदास कदम और कई अन्य सांसद और विधायक भी नहीं पहुंचे। इस शादी समारोह को लेकर सामाजिक कार्यकर्ता अंजलि दमनिया कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि मुझे आश्चर्य हो रहा है कि ऐसी खर्चीली शादी के लिए पैसा कहां से आता है। सूत्रों के मुताबिक इस शादी के लिए शहर में बीड बायपास रोड के पास करीब 5 से 6 ऐकड़ जमीन पर आलीशान शामियाना लगाया गया था। इस शादी में करीब 25 से 30 हज़ार मशहूर हस्तियों के साथ ही 1 से 1.50 लाख आम लोगों के खाने की भी व्यवस्था की गई थीं और मेहमानों के लिए 30 से 40 तरह पकवान बनाए गए थे। इस वीआईपी शादी को लेकर यहां पुलिस का भी खास पहरा था। शादी के पहले होने वाली प्री-वेडिंग वीडियो भी वायरल हो रही है। शादी होने के बाद औरंगाबाद की कई सड़कों पर गाड़ियों की लंबी-लंबी कतारें दिखाई दे रही थीं, जिसकी वजह से आम लोगों को ट्रैफिक जाम होने की वजह से काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। औरंगाबाद सहित पूरे राज्य में जहां इस शाही शादी के चर्चे हैं, वहीं इसमें हुई शाहखर्ची पर कई लोगों ने नाराजगी भी जताई।

Share This Post

Post Comment