मणिपुर सरकार पर अमित शाह ने लगाए भ्रष्‍टाचार के आरोप

मणिपुर सरकार पर अमित शाह ने लगाए भ्रष्‍टाचार के आरोप

इंफाल, मणिपुर/नगर संवाददाताः भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस पर भ्रष्‍टाचार का आरोप लगाते हुए राज्‍य सरकार को भी जमकर कोसा है। राज्‍य में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि राज्‍य के मुख्‍यमंत्री इबोबी सिंह ने अ‍धूरे प्रोजेक्‍ट्स का ही उदघाटन करवा दिया। इसके लिए उन्‍होंने कांग्रेस की अध्‍यक्ष सोनिया गांधी को यहां पर बुलाया। उन्‍होंने आरोप लगाया कि राज्‍य सरकार यहां के प्रोजेक्‍ट के लिए फंड को खा गई है। अमित शाह ने कहा कि मणिपुर में खुद को मॉडल स्‍टेट बनाने की ताकत है। साथ ही उत्‍तर पूर्वी राज्‍यों के कई इलाके अपने आप में बेहद संपन्‍न हैं। गौरतलब है कि मणिपुर विधानसभा चुनाव की 60 सीटों के के लिए दो चरणों में मतदान होगा। इसका पहला चरण 4 मार्च और दूसरा चरण 8 मार्च को होगा। 11 मार्च 2017 को चुनाव के परिणाम घोषित किए जाएंगे। वर्तमान विधानसभा का कार्यकाल 18 मार्च 2017 को समाप्त होगा। यही वजह है कि यहां पर पहले पीएम मोदी ने चुनावी सभा की थी और अब यहां पर भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष पहुंचे हैं। बीते शनिवार को यहां पर पीएम मोदी ने भी एक चुनावी जनसभा को संबोधित किया था। उन्‍होंने इस दौरान कहा था कि यदि भाजपा सत्‍ता में आती है तो यहां पर आर्थिक नाकेबंदी का दौर खत्‍म हो जाएगा। प्रधानमंत्री ने 15 साल से सरकार चला रहे मुख्यमंत्री ओकराम इबोबी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वह झूठ फैलाकर एक जनजाति को दूसरी जनजाति से लड़ाने का काम करते रहे हैं। चुनाव जीतने के लिए आम जनता को परेशान कर रहे हैं। बता दें कि कुछ माह पहले बनाए गए सात नए जिलों के विरोध में राज्य के एक नगा संगठन ने पिछले 100 दिनों से एक प्रमुख हाइवे को बंद कर रखा है। इस कारण वस्तुओं के दाम आसमान छू रहे हैं। इस दुखती रग पर हाथ रखते हुए मोदी ने कहा कि यह कैसी सरकार है, जो राज्य के लोगों को जरूरी सामान मुहैया कराने की अपनी जिम्मेदारी भी नहीं निभा पा रही है।

Share This Post

Post Comment