पर्चा लीक पर सेना की कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी गठित

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः रविवार को आयोजित सैन्य भर्ती परीक्षा का पर्चा लीक होने के मामले की उच्चस्तरीय जांच होगी। सेना ने इसके लिए हाई लेवल कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी (सीओआइ) गठित कर दी है। आधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को यह जानकारी दी। जानकारी के अनुसार, शीर्ष सैन्य अधिकारियों को पर्चा लीक मामले की पूरी जानकारी दी गई। इसके बाद सेना के दक्षिण कमांड ने सीओआइ के गठन का आदेश जारी कर दिया। इसमें पूरे मामले की विस्तार से जांच की जाएगी और दोषियों की पहचान कर उन्हें कड़ा दंड दिया जाएगा। कोर्ट ऑफ इन्क्वायरी में खास तौर पर इस बात की जांच की जाएगी कि कहीं पर्चा लीक करने के पीछे सेना के किसी मौजूदा अधिकारी या जवान का हाथ तो नहीं है? ध्यान रहे कि रविवार को देशभर के 52 केंद्रों पर सेना में क्लर्क, स्ट्रॉंगमैन, ट्रेड्समैन आदि पदों के लिए परीक्षाएं आयोजित की गई थीं। परंतु महाराष्ट्र व गोवा में प्रश्नपत्र परीक्षा से पहले ही अभ्यर्थियों के पास पहुंच गए थे। इसके चलते कांप्टी, नागपुर, अहमदनगर, अहमदाबाद, गोवा और किर्की में परीक्षा रद कर दी गई। इस सिलसिले में 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया। इनमें कई पूर्व सैनिक तथा अर्धसैनिक बल का एक जवान भी शामिल था। सेना भर्ती परीक्षा में ठाणे पुलिस ने तीन और लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस को संदेह है कि इस मामले की जड़ें नागपुर से लेकर नगालैंड तक हैं। यह भी जानकारी मिली है कि रैकेट का मुख्य अभियुक्त नगालैंड में सैन्यकर्मी के संपर्क में था तथा उसी के जरिये पेपर लीक हुआ।

Share This Post

Post Comment