मणिशंकर अय्यर ने हिंदुओं के खिलाफ उगला जहर और मुगल शासकों को बताया महान

इंदौर, मध्यप्रदेश/पालिवाल जसंवतः मणिशंकर अय्यर ने एक प्रोग्राम में स्पीच देने के दौरान हिंदुओं के खिलाफ जहर उगलते हुए मुगल शासकों को महान बताया। वही बॉम्बे हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज जीबी कोलसे पाटिल ने भी देश के नाम और हिंदुओं को लेकर विवादित टिप्पणी की। मणिशंकर अय्यर इंदौर में लेफ्ट फ्रंट द्वारा आयोजित प्रोग्राम ‘नफरत की राजनीति बंद करो’ में बोल रहे थे। मणिशंकर अय्यर ने यह कहा कि मुस्लिमों ने 600 साल भारत में राज किया और सिर्फ प्यार बांटा, कभी हिंसा नहीं की। बॉम्बे हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज जीबी कोलसे पाटिल ने कहा की हिन्दू धर्म सिर्फ नाम का है और इसमें कोई सच्चाई नहीं है। उन्होंने कहा कि भारत का सबसे बड़ा दुश्मन आरएसएस है और उसे ख़त्म करके रहेंगे। हैरानी की बात यह है कि प्रोग्राम ‘नफरत की राजनीति बंद करो’ था मगर वहां पर जस्टिस पाटिल और मणिशकंर अय्यर ने जमकर नफरत फैलाई हिंदुओं और आरएसएस के खिलाफ भाषण दिया। जस्टिस पाटिल ने कहा की हिंदुत्व सिर्फ नाम का है और ब्राह्मण ही देश के असली दुश्मन हैं। उन्होंने कहा की हम सब (वामपंथी और मुस्लिम) को एकजुट होना चाहिए और भारत को आरएसएस और ब्राह्मणों से बचाना चाहिए। वामपंथियों इस कदर अलग थलग पड़ गए हैं की अब हिन्दू को हिंदुओं से ही लड़ने की साजिश रच रहे हैं। जस्टिस पाटिल ने यहाँ तक कह दिया कि अब हमें हिंदुस्तान शब्द का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि हिंदुस्तान हिन्दू शब्द का इस्तेमाल करता है और हिंदुस्तान बिना मुसलमानों के संभव नहीं है। आपको बता दे कि यह प्रोग्राम वामपंथी दल ने आयोजित कराया था और जाहिर सी बात है इस प्रोग्राम में देश भर के सारे देश विरोधियों को बुलावा भेज गया था और मणिशंकर अय्यर कैसे चूक जाते।

Share This Post

Post Comment