प्रवेश पत्र के नाम पर अवैध राशि वसूलने पर छात्रों ने किया हंगामा

बक्सर, बिहार/चंद्र प्रकाशः राजपुर प्रखंड के नागपुर उच्च विद्यालय पर मंगलवार को छात्रों ने प्रार्चाय का विरोध जताते हुए हंगामा कर दिया। इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार मैट्रिक के परीक्षार्थियो को प्रवेश पत्र का वितरण किया जा रहा था। इस प्रवेश पत्र के बदले में छात्रों द्वारा 40 रुपये की मांग की गयी। इस मांग को गलत करार देते हुए छात्रों ने हंगामा कर दिया। लेकिन विद्यालय के प्रधानाध्यापक अपनी बात पर अड़े रहे। इस मामले की जानकारी होते ही मौके पर पहुंचे मुखिया अमित राय द्वारा पहल किया गया। लेकिन इसके बाद भी प्रधानाध्यापक नहीं माने और छात्रों से 35 रुपये की वसूली कर प्रवेश पत्र का वितरण किया गया। मुखिया द्वारा बताया गया कि प्रधानाध्यापक का कहना है कि इस बार बिहार बोर्ड ने पंजीयन और प्रवेश पत्र बेबसाईट पर लोड किया गया है। जिसका खर्च छात्रों से वसूला गया है। वहीं इस मौके पर मौजूद छात्र राघवेंद्र कुमार राय, श्याम जी, अनीष कुमार, दीपक कुमार सहित अन्य छात्रों ने बताया की अन्य विद्यालयों में इसके लिए कोई शुल्क नही वसूला गया है। जबकि डिहरी उच्च विद्यालय में पढ़ने वाली छात्रा रजिया खातून, पूनम कुमारी, पूजा कुमारी, गुड़िया कुमारी ने बताया कि इस विद्यालय में 20 रुपये की वसूली की जा रही है। इन छात्राओं ने बताया की सोमवार को विद्यालय प्रधानाध्यापक अरुण कुमार सिंह द्वारा हम सभी को वापस घर भेज दिया। हैरत की बात है कि एक तरफ सरकार शिक्षा में सुधार के लिए शिक्षा माफियाओं पर शिकंजा कस रही है। वहीं विद्यालयों में छात्रों के साथ हो रही धोखाधड़ी को लेकर जिला के आलाधिकारी भी मौन है। छात्रों ने आरोप लगाया की अगर शुल्क देना है तो बोर्ड निर्धारित शुल्क घोषित करे अन्यथा बेबसाईट पर लोड करे।

Share This Post

Post Comment