आग लगने से एक लाख का चारा और अनाज जलकर राख

नागौर, राजस्थान/ राजेंद्र घटियालाः मेड़ता रोड के पास जारोड़ा गुजरान गांव में आग लगी और फिर ग्रामीणों ने सूझबूझ से आग पर काबू पाया। पीड़ित भभूत राम पुत्र मंगलाराम जाति मेघवाल निवासी जारोड़ा गुजरान है। जिसके पास नाम मात्र 5 बीघा जमीन है और इस 5 बीघा जमीन से खेती करके ही परिवार का गुजारा बड़ी मुश्किल से होता है। दूसरी तरफ इस हादसे ने तो परिवार की हालत ही खराब कर दी है। पीड़ित परिवार बहुत ही गरीब है और बीपीएल की श्रेणी में आता है। घटना लगभग शाम 5:00 बजे की है। जहां पीड़ित का लगभग एक लाख रुपए का चारा और अनाज जलकर राख हो गया। आसपास में कच्चे घरों की बस्ती भी थी जो समय रहते आग पर काबू पा लेने से बच गई और बड़ा हादसा होने की पूरी आशंका थी। चारे के पास 20 जानवर गाय और भैंस भी बंधे थे जिन्हें खोल कर उनकी जान बचाई गई। ग्रामीणों ने 108 पर कॉल किया और लगभग 1 घंटे बाद अग्निशामक दमकल मेड़ता सिटी से आई जो कि 22 किलोमीटर दूर है। पुलिस प्रशासन का पूरा सहयोग रहा और आग को देखकर पीड़ित की दो लड़कीयां बेहोश हो गई। दूसरी बात सबसे बड़ी यहां नेटवर्क की समस्या है। जिसके चलते लोगों को 108 पर कॉल करने में बड़ी परेशानी झेलनी पड़ी और नेटवर्क प्रॉब्लम के चलते यहां गांव में पोस मशीन द्वारा राशन वितरित में भी बड़ी समस्या रहती है।

 

Share This Post

Post Comment